Home » राजनीति » In these two cases of corruption, Israeli Prime Netanyahu is in difficult, Israel Prime Minister Benjamin Netanyahu
 

भ्रष्टाचार के इन मामलों में बुरी तरह घिरे हैं मोदी के दोस्त और इजराइली पीएम नेतन्याहू

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 January 2018, 15:39 IST

भारत दौरे पर आये इजराइल के प्रधानमन्त्री नेतन्याहू ने नरेन्द्र मोदी के साथ गुजरात में रोड शो किया. इन दिनों खासतौर से भारतीय टेलीविज़न मीडिया में इजराइली प्रधानमंत्री की खासी धूम है क्योंकि नेतन्याहू चार बार इजराइल में चुनाव जीत चुके हैं. हालांकि नेतन्याहू और उनकी  बीवी पर भ्रष्टाचार के आरोप इजराइली मीडिया की सुर्खियां बनते जा रहे हैं.

अमेरिकी अख़बार न्यूयार्क टाइम्स ने लिखा है कि दुनिया के सबसे व्यस्त प्रधानमत्री होने के बाद भी वह छह दिन कि विदेश यात्रा पर हैं. इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प में एक समानता यह है कि दोनों पर घोटाले के आरोप लगते रहे हैं. इजराइल के प्रधानमन्त्री पर पुलिस दो भ्रष्टाचार के मामलों की जाँच कर रही है. आरोप है कि इस घोटाले में वह अप्रत्यक्ष रूप से शामिल हैं.

नेतन्याहू के खिलाफ सबसे बड़ा प्रदर्शन हुआ

जबकि उनकी पत्नी सारा पर भी एक अलग मामले में आरोप लगे हैं. जिसमे एक सरकारी कॉन्ट्रैक्टर से निजी काम करवाने का आरोप भी शामिल है.

हालांकि नेतन्याहू देश की मीडिया पर उन पर घोटालों को लेकर नकली समाचार छापने के आरोप लगाते रहे हैं. टाइम्स ऑफ़ इजराइल की माने तो नेतन्याहू पर गिफ्ट लेने के मामले में रिश्वतखोरी की जाँच चल रही है.

इजराइली अख़बार के मुताबिक भ्रष्टाचार के पहले मामले में नेतन्याहू पर अरबपतियों से महंगे उपहार लेने का आरोप है और उनके इशारों पर चलने के आरोप हैं. जबकि दूसरे मामले में एक अख़बार के प्रकाशक के साथ एक अवैध सौदा करने का आरोप है.

एक अन्य मामले में नेतन्याहू पर आरोप लगाया गया कि वे एक इज़राइली हॉलीवुड निर्माता अरनान मिल्चन और ऑस्ट्रेलियाई कैसीनो मुग़ल जेम्स पैकर से हजारों डॉलर के उपहारों को प्राप्त करते हैं. इन उपहारों में शैम्पेन, सिगार, उड़ानें और होटल के कमरे शामिल हैं.

टाइम्स ऑफ़ इजराइल के अनुसार इसके बदले में नेतन्याहू ने अरनान मिल्चन को अमेरिकी वीजा प्राप्त करने में मदद की. रायटर्स ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि भ्रष्टाचार के आरोपों के मद्देनजर बीते दिसंबर में प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के खिलाफ तेल अवीव में लगभग 20,000 अरनान इजरायलियों ने प्रदर्शन किया. इजराइल में इसे सबसे बड़ा भ्रष्टाचार विरोध प्रदर्शन कहा गया. यह प्रदर्शन नेतन्याहू के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों से प्रेरित था.

First published: 17 January 2018, 15:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी