Home » राजनीति » israel pm netanyahu says pm modi is a great patriot he does what is good for india in interview with times now pakistan terrorism palestine
 

'नरेंद्र मोदी सच्चे देशभक्त, वही करते हैं जो भारत के लिए अच्छा हो'

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 January 2018, 9:28 IST

इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू 6 दिन के भारतीय दौरे पर हैं. इस दौरे पर वह अपनी पत्नी सारा नेतन्याहू के साथ आए हैं. इस बीच उन्होंने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सच्चा देशभक्त बताया है. अंग्रेजी चैनल टाइम्स नाउ को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि पीएम मोदी वो ही करते हैं जो भारत देश के लिए अच्छा होता है.

नेतन्याहू से पूछा गया कि भारत में कई लोग इजरायल से रिश्तों के खलाफ हैं या उन्हें इस रिश्ते से दिक्कत है. रणनीतिक और सामरिक पहलू को लेकर वह ऐसे लोगों को कैसे भरोसे में लेंगे, तो उन्होंने कहा, 'सबसे पहले मैं यह कहना चाहूंगा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बहुत बड़े देशभक्त हैं और जो देश के हित में होता है, वह वही करते हैं.'

उन्होंने आगे कहा, 'जब वह आतंकवाद के खिलाफ भारतीय सुरक्षा, दुग्ध उत्पादन में वृद्धि और सब्जी उत्पादन में इजाफे के बारे में सोचते हैं तब वह केवल यह नहीं सोच रहे होते हैं कि इसमें इजरायल के लिए क्या अच्छा है, बल्कि वह सोचते हैं कि देश के लिए क्या अच्छा है और मुझे लगता है कि वह सही हैं.'

नेतन्याहू ने भारत और इजरायल के संबंधों को सभ्यताओं और लोकतंत्रों के बीच की भागीदारी बताया. नेतन्याहू बोले, 'मैं गुजरात के एक एक्सलेंस सेंटर में था, जहां भारतीय किसानों को इजरायली खेती के तरीके बताए जा रहे हैं. 5 किसानों ने मुझे बताया कि सब्जियां उगाने से उनकी आय 4 से 5 गुना बढ़ने में मदद मिली है. मैंने कहा, यह अद्भुत है. अगर हम औरों को भी देखें, तो इसका मतलब हुआ हमने बड़ी संख्या में भारतीयों के जीवनस्तर को ऊपर उठाया है.'

इंटरव्यू में जब नेतन्याहू से पूछा गया कि क्या सीमा पर मौजूद आतंकियों के खिलाफ भारत की कार्रवाई का इजरायल समर्थन करेगा तो उन्होंने कहा, 'हमारे बीच कुछ सांमजस्य है, इसके अलावा मुझे नहीं लगता कि आगे कुछ कहने की जरूरत है.' हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि भारत-इजरायल की भागीदारी किसी खास देश के खिलाफ नहीं है. नेतन्याहू ने पाकिस्तान को अपना दुश्मन न बताते हुए कहा, 'इजरायल पाकिस्तान का दुश्मन नहीं है और न ही पाकिस्तान को हमारा दुश्मन होना चाहिए.'

जब नेतन्याहू से फिलिस्तीन मुद्दे पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, 'इजरायल एक परफेक्ट देश होने का दावा नहीं करता है. मैं ऐसे किसी देश को नहीं जानता जहां दिक्कतें न हों. लेकिन हमने हमारे पड़ोसियों के सामने शांति का हाथ बढ़ाया है. यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि फिलिस्तीनी पक्ष पर, हमने पारस्परिक प्रतिक्रिया नहीं देखी है.'

नेतन्याहू ने यह भी कहा कि ज्यादातर अरब देश अब इजरायल को अपने दुश्मन के रूप में नहीं बल्कि कट्टरवाद के खिलाफ उनकी लड़ाई में एक अहम सहयोगी के तौर पर देखते हैं.

First published: 19 January 2018, 9:28 IST
 
अगली कहानी