Home » राजनीति » JDU: Our alliance in Bihar is strong, different views over Presidential Poll has nothing to do with the alliance
 

जेडीयू: बिहार में हमारा महागठबंधन मजबूत, राष्ट्रपति चुनाव से फ़र्क नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 June 2017, 12:56 IST
कैच

बिहार में महागठबंधन के भविष्य को लेकर जारी सियासी सुगबुगाहट के बीच जनता दल यूनाइटेड का ताज़ा बयान सामने आया है. 24 घंटे के अंदर पार्टी के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने इस मुद्दे पर दूसरा बयान दिया है. 

समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में त्यागी ने कहा, "हमारा गठबंधन बिहार में मजबूत है. राष्ट्रपति चुनाव में अलग राय होने का हमारे गठबंधन या सरकार से कोई लेना-देना नहीं है." राष्ट्रपति चुनाव में जेडीयू ने एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन करने का फैसला लिया है. इसको लेकर महागठबंधन के दो सहयोगी राष्ट्रीय जनता दल और कांग्रेस ख़ुश नहीं हैं.

'भाजपा से गठबंधन में सहज थे'

केसी त्यागी त्‍यागी ने मंगलवार को कहा, "जदयू का जब भाजपा से गठबंधन था, तो जेडीयू काफी सहज थी." कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए त्यागी ने कहा, "हम पांच साल बिहार में गठबंधन चलाना चाहते थे, लेकिन ऐसे बयान बर्दाश्‍त नहीं किए जाएंगे. जदयू गुलाम नबी आजाद के गैर दोस्‍ताना बयान से सहज नहीं है. किसी पार्टी के आला नेता के खिलाफ ऐसा बयान सही नहीं है."

केसी त्‍यागी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, "गांधी और नेहरू का सपना कांग्रेस पूरा नहीं कर पाई. हम यूपीए में नहीं हैं और हम एनडीए से भी बाहर हैं. हमें दूसरी पार्टियां सुझाव ना दें. कांग्रेस के इस तरह के बयानों से गठबंधन की उम्र घटती है."

केसी त्यागी ने इस दौरान कहा कि उनकी पार्टी राष्‍ट्रपति चुनाव में एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का ही समर्थन करेगी. त्यागी ने कहा, "कोविंद को समर्थन देने पर जदयू अडिग है. जिस दिन रामनाथ कोविंद की घोषणा हुई उनके पास 60 प्रतिशत बहुमत था. जब मीरा कुमार के नाम का एलान हुआ उनके पास 40 प्रतिशत से कम वोट थे. किसने हारने के लिए बिहार की बेटी को खड़ा किया."

First published: 28 June 2017, 12:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी