Home » राजनीति » Kapil sibal: For Black money operation Govt should take action billionaires
 

कपिल सिब्बल: आम लोगों को परेशान करने की बजाय अरबपतियों पर शिकंजा कसे सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:37 IST
(एएनआई)

मोदी सरकार के नोटबंदी की कड़ी आलोचना करते हुए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने शुक्रवार को कहा कि सरकार को करोड़ों आम लोगों को परेशानी में डालने की बजाय उन 'मुट्ठी भर अरबपतियों’ पर ध्यान देना चाहिए, जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय लॉकरों में अपना कालाधन रखा है.

नोटबंदी के प्रभाव पर आयोजित एक परिचर्चा में सिब्बल ने कहा, "काला या सफेद धन लोगों पर निर्भर नहीं है बल्कि लेनदेन के तरीके पर निर्भर करता है. कालाधन से लड़ने के लिए मुख्य तौर पर लेनदेन पर ध्यान देना चाहिए न कि लोगों पर."

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, "कठिन मेहनत से पीढ़ियों तक बचाया गया एक-एक पाई अब काला धन हो गया है. भारत के करोड़ों आम लोगों को परेशान करने की बजाय हम उन चंद अरबपतियों पर ध्यान क्यों नहीं दे रहे हैं, जिन्होंने अपना कालाधन अंतरराष्ट्रीय लॉकरों में रखा है."

कपिल सिब्बल ने कहा है कि लगभग 86 फीसदी लोगों की जिंदगी पर नोटबंदी का बुरा असर पड़ा है और कई छोटे उद्योग-धंधे बंद हो रहे हैं.

उन्होंने कहा, "नोट काला या सफेद नहीं होता बल्कि उसका ट्रांजैक्शन काला या सफेद होता है. 120 करोड़ लोगों में से लगभग 70 करोड़ ऐसे लोग हैं जो 10 हजार रुपये से कम पैसे कमाते हैं, आखिर उनके पास काला धन कैसे है! जिनके पास काला धन था, वे या तो सोना खरीद चुके हैं या हवाला के जरिए अपना पैसा बदलवा चुके हैं."

उन्होंने कहा कि भारत में इसके पहले भी 2 बार डिमॉनेटाइजेशन हो चुका है, लेकिन लोगों को इतनी परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ा.

First published: 17 December 2016, 11:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी