Home » राजनीति » karnatak: Congress and JDS portfolio allocation in Karnataka kumarswami Government
 

JDS-कांग्रेस में हुआ मंत्रालयों का बंटवारा, 2019 में मोदी को हराने के लिए बनाया गठबंधन

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 June 2018, 18:00 IST
(ANI)

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस के गठबंधन में सरकार बनने के बाद आखिरकार कैबिनेट विस्तार को लेकर सहमति बन गई है. कांग्रेस-जेडीएस ने मंत्रिमंडल का विस्तार का ऐलान कर दिया है. कुमारस्वामी बुधवार को कैबिनेट का विस्तार करेंगे. कांग्रेस के पास गृह और सिंचाई विभाग जैसे मंत्रालय होंगे, तो वहीं जेडीएस के पास वित्त मंत्रालय जैसा बड़ा विभाग रहेगा. 

प्रेस कॉन्फ्रेंस में कुमारस्वामी ने कहा कि दोनों दलों ने कैबिनेट विस्तार को लेकर काफी चर्चा की. उसके बाद ही विभागों का बंटवारा किया गया है. वहीं केसी वेणुगोपाल ने कहा कि दोनों पार्टियां कैबिनेट गठन को लेकर निष्कर्ष पर पहुंच गई  हैं. 

वेणुगोपाल ने बताया कि कांग्रेस के पास कुल 22 मंत्रालय रहेंगे, इसमें  गृह, सिंचाई, बेंगलुरु डेवलेपमेंट, उद्योग एवं शुगर इंडस्ट्री, स्वास्थ्य, राजस्व, समाज कल्याण, महिला एवं बाल कल्याण  जैसे कुछ अहम मंत्रालय शामिल हैं. 

वहीं जेडीएस के पास कुल 12 विभाग रहेंगे. इसमें  सूचना विभाग, खुफिया विभाग, वित्त एवं आबकारी, पीडब्ल्यूडी, बिजली विभाग, पर्यटन, कॉपरेशन, शिक्षा एवं मेडिकल शिक्षा, पशुपालन,  बागवानी,  छोटे उद्योग, परिवहन विभाग रहेंगे. 

2019 में साथ लड़ेंगे चुनाव

कैबिनेट विस्तार के साथ ही कांग्रे-जेडीएस ने साल 2019 लोकसभा चुनाव में मिलकर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है. केसी वेणुगोपाल ने कहा कि दोनों दलों में आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर सहमति बन गई है. दोनों इसके लिए पूरी तरह से तैयार हैं.   

आपको बता दें कि कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस ने गठबंधन से सरकार बनाई है. जेडीएस के कुमारस्वामी ने 25 मई को सीएम पद की शपथ ली थी. शपथग्रहण के बाद से कैबिनेट विस्तार को लेकर दोनों दलों में सहमति नहीं बन पा रही थी. विभागों के बंटवारे को लेकर दोनों दलों में खींचतान हो रही थी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के भी इसको लेकर हस्तक्षेप करने की खबरें सामने आई थीं.  

First published: 1 June 2018, 17:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी