Home » राजनीति » Karnataka: BSP supremo Mayawati appeals to save the Constitution from the Supreme Court
 

मायावती ने सुप्रीम कोर्ट से की संविधान बचाने की अपील, बोलीं- लोकतंत्र पर हमला कर रही मोदी सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 May 2018, 13:12 IST

भारतीय जनता पार्टी के बीएस येदियुरप्पा ने तीसरी बार कर्नाटक के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली. दरअसल, कांग्रेस ने कर्नाटक के राज्यपाल द्वारा भाजपा को सरकार बनाने के न्यौते को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी. कांग्रेस ने येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण पर रोक लगाने की मांग की थी. जिसे सुप्रीम कोर्ट ने इनकार कर दिया था.  

इसे लेकर बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने सुप्रीम कोर्ट से संविधान बचाने की अपील की. मायावती ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट अपनी भूमिका निभाए. उन्होंने कहा कि बीजेपी जबसे सत्ता में आई है बाबासाहेब द्वारा बनाए संविधान को बदलने का प्रयास कर रही है. मायावती ने कहा कि बीजेपी सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करके लोकतंत्र पर हमला कर रही है. 

इससे पहले छत्तीसगढ़ के रायपुर में जनस्वराज सम्मेलन को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने मोदी सरकार और भाजपा पर जोरदार हमला बोला. राहुल ने कहा कि कर्नाटक में जैसा BJP ने किया है वैसा पाकिस्तान या तानाशाही में होता है.

कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट कर भी भाजपा पर हमला बोला था. बीजेपी के सरकार बनाने पर राहुल गांधी ने ट्वीट करके कहा था, ''बीजेपी का सरकार बनाने का दावा तर्कहीन है जब ये स्पष्ट है कि कर्नाटक में सरकार बनाने के लिए उसके पास संख्या बल कम है. ये एक तरह से हमारे संविधान का मजाक उड़ाना है. आज सुबह जब देश बीजेपी की खोखली जीत का जश्न मना रहा है, भारत लोकतंत्र की हार को शोक करेगा.''

पढ़ें- कर्नाटक: रिसॉर्ट से गायब हुए कांग्रेस के दो और विधायक, BJP से हाथ मिलाने की आशंका

गौरतलब है कि कर्नाटक में येदियुरप्पा ने तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. इसके साथ ही बीजेपी की 22 राज्यों में सरकार हो गई है. यानि कि साल 2014 के बाद बीजेपी ने 17 राज्यों में सरकार बनाई है.

First published: 17 May 2018, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी