Home » राजनीति » Karnataka cabinet formation:congress-jds MLA upset over portfolio allocation
 

कर्नाटक में नाटक: मंत्री नहीं बनाया तो कई विधायक हुए नाराज, कुमारस्वामी की बढ़ी टेंशन

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 June 2018, 18:11 IST

कर्नाटक में जेडीएस-कांग्रेस के गठबंधन में नई सरकार का गठन हो जाने के बाद भी सियासी नाटक समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है. कुमारस्वामी के सीएम पद की शपथ लेने के बाद दोनों पार्टियों में मत्रीमंडल के बंटवारे को लेकर खींचतान चलती रही. अब मंत्री नहीं बनने के चलते दोनों पार्टियों के कुछ विधायक नाराज हो गए हैं. विधायकों की नाराजगी ने सीएम कुमारस्वामी के लिए परेशानी को बढ़ा दिया है. हालांकि नाराज विधायकों को मनाने की कोशिश की जा रही है.

जानकारी के अनुसार, कांग्रेस विधायक एन.ए. हैरिस मंत्री नहीं बनने की वजह से नाराज हो गए हैं. उनके समर्थकों ने कांग्रेस कार्यालय के बाहर नारेबाजी करते हुए हैरिस को मंत्री बनाने की मांग की. उनकी नाराजगी को देखते हुए सीएम एचडी कुमारस्वामी और उपमुख्यमंत्री जी. परमेश्वर कांग्रेस विधायक हैरिस को मनाने के लिए उनके घर पहुंचे. वहीं सिद्धारमैया सरकार में मंत्री रहे कांग्रेस विधायक तनवीर सैत को भी नाजार बताया जा रहा है. उनके समर्थकों ने इसका जमकर विरोध किया है.

बता दें कि इस मामले में सीएम कुमारस्वामी भी कह चुके हैं, कुछ टेंशन जरूर है, लेकिन इसको जल्द ही दूर कर लिया जाएगा. कुछ विधायक नाराज है. कांग्रेस नेता सही निर्णय लेंगे. वहीं उन्होंने मंत्री मंडल के गठन के बाद कहा था कि मंत्री नहीं बनने से उनकी पार्टी के भी कई नेता नाराज है.

गौरतलब है कि कुमारस्वामी के सीएम बनने के बाद बुधवार को 25 विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई थी. इसमें जेडीएस के 9 और कांग्रेस के 14 विधायकों को मंत्री बनाया गया है. वहीं बसपा के एक विधायकों को भी मंत्री मंडल में जगह दी गई है.

ये भी पढ़ें- जम्मू कश्मीर: आतंकियों ने PDP नेता के घर को बनाया निशाना, हमले के बाद सर्च ऑपरेशन जारी

आपको बता दें कि कर्नाटक में किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है, बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी. हालांकि बहुमत नहीं होने के चलते बीजेपी की येदियुरप्पा सरकार तीन दिन भी नहीं चल पाई थी. इसके बाद जेडीएस और कांग्रेस ने मिलकर सरकार का गठन किया है. ऐसे में कांग्रेस-जेडीएस के लिए पार्टी विधायकों की नाराजगी नुकसानदेह साबित हो सकती है. बीजेपी इसका फायदा उठाने का कोई मौका नहीं छोड़ना चाहेगी.

First published: 8 June 2018, 18:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी