Home » राजनीति » Karnataka CM HD Kumaraswamy wins floor test after 117 MLAs voted in his favour
 

कर्नाटक: कुमारस्वामी ने विश्वासमत किया हासिल, भाजपा का वॉकआउट

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 May 2018, 16:54 IST

कर्नाटक के सीएम कुमारस्वामी ने विधानसभा में विश्वासमत हासिल कर लिया है. उनके पक्ष में 117 विधायकों ने वोट किया. वहीं बीजेपी ने फ्लोर टेस्ट में हिस्सा नहीं लिया, उसने विश्वासमत से पहले ही सदन से वॉकआउट कर दिया. कुमारस्वामी कांग्रेस-जेडीएस के समर्थन से सीएम बने हैं.

कुमारस्वामी ने सदन को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने सोच समझकर गंठबंधन की सरकार बनाई है. उनकी पार्टी का भविष्य भी गठबंधन पर टिका है. उन्होंने कहा कि ये गठबंध केवल सत्ता हासिल करने के लिए नहीं बना है, बल्कि पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि बीजेपी के अलावा दूसरी कोई पार्टी सरकार नहीं बना सकती है. मैंने ऐसा नहीं होने दिया. पीएम मोदी लोकतंत्र के संरक्षक हैं. क्या उनको इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करना चाहिए.

ये भी पढ़ें- कुमारस्वामी के CM बनने से पहले बाजार को ऐसे लगा एक लाख करोड़ से ज्यादा का झटका

कुमारस्वामी ने कहा कि हमने राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था. राज्यपाल ने इस पर विचार करने की बात कही थी. येदियुरप्पा ने कहा था कि बीजेपी सबसे बड़ी है. इसलिए उसको सरकार बनाने का राज्यपाल ने न्योता दिया था. राज्यपाल ने नियमों के अनुसार ही फैसला किया था, लेकिन हमने पिछले कुछ सालों में देखा है कि कई राज्यों में किस तरह से सरकार बनाई गई हैं. गोवा में क्या हुआ है, सबको पता है.

बता दें कि इससे बीजेपी ने विधानसभा में कांग्रेस के खिलाफ अपना उम्मीदवार मैदान में उतारा था. कांग्रेस की तरफ से रमेश कुमार प्रत्याशी थे जबकि भाजपा की तरफ से सुरेश कुमार ने पर्चा भरा था. इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष पद की लड़ाई दिलचस्प हो गई थी. लेकिन ऐन मौके पर बीजेपी द्वारा अपना प्रत्याशी वापस ले लेने पर कांग्रेस को बड़ी जीत हासिल हुई है.

 

बीजेपी ने विश्वासमत में नहीं लिया हिस्सा

बीजेपी ने विधानसभा में विश्वासमत में हिस्सा नहीं लिया. उसने फ्लोर टेस्ट से पहले ही सदन से वॉकआउट कर दिया. सदन से बाहर निकलने के बाद बीजेपी ने कहा कि अगर सरकार ने किसानों की कर्जमाफी नहीं की तो वे सोमवार से राज्यव्यापी प्रदर्शन करेंगे.

ये भी पढ़ें- कर्नाटक: BJP को दूसरा बड़ा झटका, स्पीकर पद से नाम लेना पड़ा वापस

गौरतलब है कि 19 मई को बीजेपी नेता बीएस येद्दयुरप्पा ने विश्वास मत हासिल करने से पहले ही मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद 23 मई को जेडीएस नेता कुमारस्वामी ने कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के तौर पर सीएम पद की शपथ ली थी.

पढ़ें- कर्नाटक: कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह का गवाह बनने पहुंचे सोनिया-राहुल, मोदी के खिलाफ खुला मोर्चा

कुमारस्वामी को राज्यपाल वजूभाई वाला ने सीएम पद की शपथ दिलाई थी. कुमारस्वामी दूसरी बार कर्नाटक के सीएम बने है. जबकि कांग्रेस के जी. परमेश्वर ने उपमुख्यमंत्री के पद की शपथ ली थी. आज कुमारस्वामी को विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना है.

First published: 25 May 2018, 16:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी