Home » राजनीति » Karnataka election results 2018 : Mamata Banerjee says-If Congress had joined hands with JD(S), results would have been different’
 

कर्नाटक परिणाम : क्यों हारी कर्नाटक में कांग्रेस, ममता ने बताया कारण

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 May 2018, 15:09 IST

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कहना है कि कर्नाटक कांग्रेस और जनता जनता (सेक्युलर) मिलकर चुनाव लड़ते तो कर्नाटक विधानसभा चुनाव का नतीजा अलग ही होता. भारतीय जनता पार्टी ने अब तक 24 सीटें जीती हैं और 81 सीटों पर आगे बढ़ चल हैं जबकि कांग्रेस ने चार सीटें जीती हैं और 71 में आगे चल रही है.

बनर्जी ने ट्विटर पर कहा, "ममता बनर्जी ने ट्वीट कर विजेता (बीजेपी) को बधाई दी है, वहीं जो हार (कांग्रेस) गए हैं उन्हें वापस लड़ने के लिए कहा है. ममता बनर्जी ने कहा कि अगर कांग्रेस ने जेडीएस के साथ गठबंधन किया होता तो आज नतीजे कुछ और ही होते. बहुत अलग होते"

 

इससे पहले एक इंटरव्यू में तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष बनर्जी ने कहा कि अगर राज्य में हंग हाउस बनता है तो जेडी (एस) नेता एचडी कुमारस्वामी कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री बन जाएंगे. कर्नाटक में अब जेडी (एस) के सर्वोच्च नेता एचडी देवेगौड़ा की भूमिका ऐसी स्थिति में महत्वपूर्ण हो जाएगी.

इस बीच जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने भाजपा को वोट देने के लिए कर्नाटक के मतदाताओं पर विलियम शेक्सपियर के जरिए टिप्पणी की. उमर अब्दुल्ला ने दिलचस्प ट्वीट किया है. उन्होंने कर्नाटक की जनता को संबोधित करते हुए लिखा है, "Et tu, #karnataka".

'Et tu' शब्द का मतलब तुम भी होता है. लैटिन भाषा का ये शब्द आमतौर पर आश्चर्य व्यक्त करने और निराशा के लिए प्रयोग में लाया जाता है. विलियम शेक्सपियर के नाटक जूलियस सीजर में इस शब्द का इस्तेमाल नाटक के मुख्यपात्र सीजर ने अपने दोस्त ब्रुट के लिए इस्तेमाल करता है. दरअसल सीजर अपने दोस्त के विश्वाघात के समय ये लाइनें अपने दोस्त ब्रुट सेे कहता है.

First published: 15 May 2018, 15:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी