Home » राजनीति » कर्नाटक विधान सभा चुनाव 2018 : कहीं येदियुरप्पा का CM बनने का सपना धरा का धरा तो नहीं रह जायेगा ?
 

कर्नाटक परिणाम : कहीं येदियुरप्पा का CM बनने का सपना धरा का धरा तो नहीं रह जायेगा ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 May 2018, 14:59 IST

Karnataka Assembly Election Result 2018 : कर्नाटक में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभर रही है लेकिन देखने वाली बात यह होगी कि क्या बीजेपी 112 सीटों के उस जादुई आंकड़े को छू पाती है या नहीं. अभी तक आये रुझानों से यह साफ़ लग रहा है कि बीजेपी को 100 से 112 के बीच सीट मिल सकती हैं, लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि यदि बीजेपी 112 का जादुई आंकड़ा नहीं छूपाती है तो फिर उसे जेडीएस का समर्थन लेना पड़ेगा.

 

फ़िलहाल जेडीएस कर्नाटक में तीसरी सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभर रही है और उसे फ़िलहाल 40 से ज्यादा सीटें मिलती दिखाई दे रही है. राजनीतिक जानकारों की माने तो बीजेपी यहां जेडीएस को मनाने में कामयाब हो सकती है, इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि केंद में भी बीजेपी की सरकार है और वह इस आधार पर भी सौदा कर सकती है. पिछले दिनों हुए कुछ राज्यों के चुनाव में भी यह देखने को मिला.

सूत्रों की माने तो कर्नाटक में सत्ता में आने के लिए बीजेपी को अगर जेडीएस की जरूरत पड़ती है तो वह जेडीएस को सीएम पद भी ऑफर कर सकती है. एक देखने वाली महत्वपूर्ण बात यह भी है कि अगर कर्नाटक में कांग्रेस को 70 सीटें मिलती है और जेडीएस 40 से कम पर सिमट जाती है तो फिर कांग्रेस और जेडीएस मिलकर भी 112 के जादुई आंकड़े को नहीं छू सकते हैं.

हालांकि कर्नाटक में अन्य अभी सिर्फ 2 सीटें पर जीतती दिखाई दे रही है और दो सीटों और चुनाव भी होने हैं. हालांकि कांग्रेस पार्टी की ओर से अशोक गहलोत और गुलाम नबी आज़ाद जैसे बड़े नेता कर्नाटक पहुंच चुके हैं लेकिन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह जोड़-तोड़ में एक्सपर्ट माने जाते हैं.

ये भी पढ़ें : कर्नाटक चुनाव रिजल्ट 2018 : BJP की बढ़त से शेयर बाजार में उछाल, सेंसेक्स 400 अंक चढ़ा

कर्नाटक में कांग्रेस की हार से अब पूरे देश में उसका महज 2.49 फीसदी आबादी पर उसका राज रह गया है, जिनमे अब तीन राज्य शामिल हैं. पूरे देश में बीजेपी 69.14 फीसदी आबादी पर राज करेगी.

कांग्रेस की फ़िलहाल जिन 3 राज्यों में सरकारें हैं उनमे पंजाब मिजोरम और पुडुचेरी हैं. जबकि जिन 21 राज्यों में अब बीजेपी का राज होगा उनमे सिक्किमम नागालैंड, त्रिपुरा, मेघालय, असम, हरियाणा, छत्तीसगढ़, जम्मूकश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल, गोवा, मणिपुर अरुणाचल, यूपी, महाराष्ट्र, बिहार, मध्यप्रदेश, राजस्थान, गुजरात, झारखण्ड और अब कर्नाटक शमिल हैं.

First published: 15 May 2018, 14:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी