Home » राजनीति » Karnatka BJP Leader controvercial remark on beef
 

भाजपा नेता का बयान- ब्राह्मण भी खाते थे बीफ

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 June 2017, 16:34 IST

कर्नाटक में भाजपा नेता वामन आचार्य ने बीफ के मुद्दे पर विवादास्पद बयान दिया है. एक कन्नड़ टीवी न्यूज़ चैनल पर चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि कृषि प्रधान देश बनने से पहले भारत के ब्राह्मण भी बीफ खाया करते थे.

अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक विवाद बढ़ने पर उन्होंने अपने बयान से किनारा कर लिया है. वहीं वामन के इस बयान पर गहरी आपत्ति जताते हुए कर्नाटक भाजपा के वरिष्ठ नेताओं सीटी रवि और गो मधुसूदन ने घोर निंदा की है.

यह था वामन का बयान

कृषि प्रधान देश बनने से पहले भारत में बीफ सहित कई पशुओं का मांस खाया जाता था. ऐसे कई उदाहरण हैं जिनसे पता चलता है कि ब्राह्मणों सहित कई समुदाय के लोग गाय का मांस भी खाते थे.

वामन ने यह बयान स्लॉटर हाउस के लिए पालतू पशुओं की खरीद-फरोख्त की बिक्री पर लगी रोक पर चर्चा के दौरान दिया था. उन्होंने कहा था कि आज भी भारत के उत्तर पूर्वी राज्यों में गाय का मांस खाया जाता है.

बयान पर विवाद बढ़ने पर आचार्य ने एक न्यूज एजेंसी से बातचीत करते हुए कहा, "मैं इस मुद्दे पर किसी प्रकार का विवाद नहीं चाहता हूं, इसलिए अपनी बात वापस ले रहा हूं."

वामन ने आगे कहा कि मैं चाहता हूं कि इस मामले को तूल न दिया जाए और यहीं खत्म कर दिया जाए. मैं नही चाहता हूं कि मेरे वजह से मेरी पार्टी को किसी भी प्रकार की मुसीबत या नुकसान उठाना पड़े.

First published: 7 June 2017, 16:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी