Home » राजनीति » Kashmiri pandit demands, Sedition case filed against Farooq Abdullah
 

कश्मीरी पंडितों की मांग, फ़ारूक़ अब्दुल्ला के ख़िलाफ़ दर्ज हो देशद्रोह का केस

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:37 IST
(एजेंसी)

कश्मीरी पंडितों के विभिन्न संगठनों ने मांग की है कि जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज हो.

इसके साथ ही कश्मीरी पंडितों के संगठनों ने फारूक अब्दुल्ला के कथित ‘‘राष्ट्र-विरोधी बयानों’’ के खिलाफ जम्मू में मंगलवार को प्रदर्शन भी किया.

ऑल पार्टीज माइग्रेंट्स कोऑर्डिनेशन कमेटी (एपीएमसीसी) के अध्यक्ष विनोद पंडित ने कहा, "राष्ट्र-विरोधी टिप्पणी करना उनकी आदत में शुमार है."

उन्होंने अब्दुल्ला की हालिया टिप्पणी पर उनके खिलाफ देश-द्रोह का मामला दर्ज करने की मांग की. अब्दुल्ला ने अपने एक बयान में कहा था कि वह अलगाववादियों के साथ हैं.

वहीं एपीएमसीसी के राष्ट्रीय प्रवक्ता किंग भारती ने कहा, "कश्मीरी अलगाववादियों के पक्ष में फारूक अब्दुल्ला के बयान को लेकर उनके खिलाफ देश-द्रोह का मामला दर्ज करने की हम मांग करते हैं."

कश्मीर के हजरतबल दरगाह के पास अपने पिता और नेशनल कॉन्फ्रेंस के संस्थापक शेख अब्दुल्ला की 111वीं जयंती आयोजित एक कार्यक्रम में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए फारूक ने हुर्रियत के नेताओं से दूसरे रास्ते पर नहीं चलने की नसीहत देते हुए कहा, "संयुक्त रहें और हम भी आपके साथ खड़े हैं."

उन्होंने कहा था, "हमें अपना दुश्मन ना मानें, हम नहीं हैं. लेकिन हम गलत रास्ते पर चलने को तैयार नहीं हैं. इसलिए मैं इस पाक जगह से आपसे कह रहा हूं कि आप (हुर्रियत) आगे बढ़ें, और जब तक आपके पांव सही रास्ते पर हैं और आप इस देश को सही तरीके से आगे बढ़ा रहे हैं, हम आपके साथ हैं."

इस बीच जम्मू-कश्मीर की भाजपा इकाई ने आरोप लगाया कि हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद घाटी में अशांति उत्पन्न करने वालों को नेशनल कॉन्फ्रेंस अपना लगातार समर्थन दे रहा है.

First published: 7 December 2016, 11:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी