Home » राजनीति » UP CM Yogi Adityanath to hold first UP cabinet meeting in Lucknow
 

जानिए किसान क़र्ज़माफ़ी समेत आज क्या बड़े फ़ैसले ले सकते हैं योगी?

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 April 2017, 11:47 IST
(एएनआई)

यूपी में सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज शाम पांच बजे कैबिनेट की अहम बैठक बुलाई है. 19 मार्च को सूबे की सत्ता संभालने के बाद योगी की यह पहली कैबिनेट मीटिंग है. ख़ास बात ये है कि इस बैठक में तकरीबन डेढ़ करोड़ किसानों की कर्जमाफी समेत कई बड़े एलान हो सकते हैं. एक नज़र इस बैठक में संभावित फैसलों के बारे में: 

  1. बीजेपी ने अपने लोक कल्याण संकल्प पत्र में किसानों की कर्जमाफी का सबसे बड़ा वादा किया था. केंद्र साफ कर चुका है क राज्य को यह व्यवस्था खुद करनी होगी. यूपी में 2 करोड़ 33 लाख सीमांत और लघु किसान हैं. तकरीबन दो करोड़ छोटे किसान हैं. सूबे के करीब डेढ़ करोड़ किसानों पर अभी 62,000 करोड़ रुपये का फसली कर्ज है. जिसे पहली कैबिनेट बैठक में खत्म किया जा सकता है.  
  2. अवैध बूचड़खानों पर जहां एक ओर गाज गिर रही है, वहीं पहली कैबिनेट बैठक में कड़ी सजा को लेकर भी फैसला हो सकता है. साथ ही योगी सरकार बूचड़खानों पर अपनी नीति घोषित कर सकती है.
  3. अखिलेश यादव की सरकार में कई योजनाओं को समाजवादी नाम दिया गया था. संभव है कि योगी सरकार बैठक के दौरान कुछ के नाम बदलने पर मुहर लगा सकती है.
  4. यूपी चुनाव के दौरान बिजली बड़ा मुद्दा रहा. योगी सरकार सबको 24 घंटे बिजली देने की घोषणा कर सकती है. साथ ही गांवों में बिजली सप्लाई खासकर किसानों को बिजली आपूर्ति पर घोषणा मुमकिन है.
  5. प्राइवेट स्कूल मनमानी फीस वसूल रहे हैं. ऐसे में निजी स्कूलों की फीस को नियमित करने के लिए योगी सरकार बड़ा नीतिगत फैसला ले सकती है. 
  6. यूपी बोर्ड की परीक्षाओं में नकल के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. ऐसे में योगी सरकार इस पर नकेल कसने के लिए नया एलान कर सकती है. 
  7. पश्चिमी यूपी में गन्ना किसानों का बकाया अहम मुद्दा रहा है. बीजेपी ने वादा किया था कि 14 दिन के अंदर बकाया किसानों के खाते में पहुंच जाएगा. ऐसे में गन्ना किसानों को राहत पहुंचाने के लिए एलान हो सकता है. साथ ही गेहूं खरीद को लेकर भी किसानों को राहत पहुंचाने का कदम उठाया जा सकता है.
First published: 4 April 2017, 11:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी