Home » राजनीति » lalu prasad yadav offers mayawati for rajya sabha membership for bihar
 

मायावती को मिला लालू का साथ, बातचीत के बाद दिया ये बड़ा ऑफर

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 July 2017, 11:22 IST

राज्यसभा की सदस्यता से बसपा सुप्रीमो मायावती के इस्तीफे के बाद उनके राजनीतिक भविष्य को लेकर कयास लगाए जा रहे है. यूपी चुनावों में हार के बाद उनका यूपी से अपने दम पर राज्यसभा पहुंचना मुश्किल है. कई विश्लेषकों का मानना है कि वो अब यूपी में होने वाले लोकसभा के उपचुनाव में किस्मत आजमा सकती हैं.

जांच एजेंसियों के चंगुल में फंसे आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने मायावती को राज्यसभा भेजने का ऑफर दिया है. हालांकि, अभी मायावती का इस्तीफा सभापति के द्वारा स्वीकार नहीं हुआ है. तकनीकी रूप से माना जा रहा है वो ये इस्तीफा स्वीकार नहीं करेंगे क्योंकि उन्होंने तीन पेज का इस्तीफा उन्हें सौंपा है, जबकि नियमों के मुताबिक बिना कारण बताए तीन लाइन का इस्तीफा दिया जा सकता है.

लालू यादव ने कहा, "मायावती सदन में दलितों की आवाज उठा रही थीं, लेकिन भाजपा के सदस्यों ने उन्हें बोलने नहीं दिया. इस बात में कोई शक नहीं कि मायावती देश की दलित नेता हैं और उन्हें सदन में दलितों की बात नहीं रखने दी गई." उन्होंने कहा अगर मायावती सहमत होती हैं, तो वो अपनी पार्टी के कोटे से उन्हें राज्यसभा भेजने के लिए तैयार हैं.

दरअसल मायावती की पार्टी को 2017 के यूपी विधानसभा चुनाव में 403 सीटों में से महज 19 सीटें मिलीं. वहीं उससे पहले 2014 के लोकसभा चुनाव में यूपी में बसपा खाता भी नहीं खोल पाई थी. यही वजह है कि लालू यादव ने उन्हें अपनी पार्टी से राज्यसभा भेजने का ऑफर दिया है.

First published: 19 July 2017, 11:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी