Home » राजनीति » Bypolls,Voting,Polling,5 states,4 Lok Sabha,8 assembly seats,Byelection,Assam,MP,West Bengal,Shahdol,Lakhimpur,PM Modi,Note Ban,Demonetization,Black Money
 

नोटबंदी के बाद मोदी का लिटमस टेस्ट: 4 लोकसभा, 8 विधानसभा सीटों पर मतदान

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:39 IST
(एएनआई)
QUICK PILL
  • छह राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश की 12 सीटों पर हो रहे उपचुनाव को नोटबंदी के बाद मोदी सरकार की पहली परीक्षा माना जा रहा है.
  • लोकसभा की चार और विधानसभा की आठ सीटों के लिए यह चुनाव हो रहे हैं. इनमें से दो लोकसभा सीट अभी बीजेपी के पास थी.
  • ममता बनर्जी ने नोटबंदी पर मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है. बंगाल में भी दो लोकसभा और एक विधानसभा सीट पर चुनाव हो रहा है. 
  • सभी 12 सीटों के नतीजे 22 नवंबर को आएंगे. इसे नोटबंदी पर जनता की पहली प्रतिक्रिया के तौर पर देखा जाएगा.

छह राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में कड़ी सुरक्षा के बीच उपचुनाव की वोटिंग जारी है. आठ नवंबर को मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले के 11 दिन बाद हो रहे यह चुनाव काफी अहम माने जा रहे हैं.

उपचुनाव में कुल चार लोकसभा सीटों और आठ विधानसभा सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं. मोदी सरकार के लिए इस चुनाव के नतीजों के बड़े मायने हैं, क्योंकि नोटबंदी के फैसले के बाद पहली बार जनता वोट डाल रही है, लिहाजा सरकार के फैसले पर इसे जनमत संग्रह के तौर पर भी देखा जा रहा है.

इन सबके बीच लोग 11वें दिन भी बैंकों और एटीएम के बाहर लंबी कतार में हैं. वोटों की गिनती मंगलवार यानी 22 नवंबर को होगी और उसी दिन चुनाव के नतीजे भी आ जाएंगे. जिन चार लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहा है, उनमें से मध्य प्रदेश की शहडोल और असम की लखीमपुर सीट अभी बीजेपी के पास थी.

सभी 12 निर्वाचन क्षेत्रों में सुबह सात बजे से ही कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान हो रहा है.

एएनआई

इन सीटों पर उपचुनाव

मध्य प्रदेश: शहडोल लोकसभा सीट और नेपानगर विधानसभा सीट.

असम: लखीमपुर लोकसभा सीट और बैठलांगसो विधानसभा सीट.

बंगाल: कूच बिहार और तमलुक लोकसभा सीट और मोंटेश्वर विधानसभा सीट.

तमिलनाडु: तंजावुर, अरावक्कूरिची और तिरुपर्रानकुंदरम विधानसभा सीट.

अरुणाचल प्रदेश: हायुलियांग विधानसभा सीट.

त्रिपुरा: बरजाला और खोवाई विधानसभा सीट.

पुड्डुचेरी: नल्लीथोप्पे विधानसभा सीट.

बंगाल, असम, एमपी में लोकसभा उपचुनाव

मध्य प्रदेश में शहडोल लोकसभा सीट और नेपानगर विधानसभा के लिए उपचुनाव हो रहा है. बीजेपी इन दोनों ही सीटों पर काबिज है. ऐसे में अगर उसके हाथ से यह सीट खिसकती है, तो बड़े सियासी मायने होंगे.

बीजेपी सांसद दलपत सिंह परस्ते के निधन के कारण शहडोल में उपचुनाव हो रहे हैं. इसके अलावा नेपानगर विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक राजेंद्र श्यामलाल दादू की सड़के हादसे में मौत हो गई थी. इस वजह से यहां मतदान हो रहा है.

कूचबिहार-तमलुक में लोकसभा उपचुनाव

पश्चिम बंगाल में दो लोकसभा (कूचबिहार और तमलुक) के अलावा मोंटेश्वर विधानसभा सीट पर मतदान हो रहा है. टीएमसी,कांग्रेस, भाजपा, लेफ्ट और कांग्रेस ने तीनों सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं. कांग्रेस और लेफ्ट ने विधासभा चुनाव साथ लड़ा था, लेकिन इस बार दोनों अलग-अलग चुनाव लड़ रहे हैं.

कूच बिहार सीट तृणमूल की सांसद रेणुका सिन्हा के निधन के बाद खाली हो गई थी, जबकि तमलुक से सांसद सुवेंदू अधिकारी के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के मंत्रिमंडल में शामिल होने से यहां उपचुनाव हो रहा है.

सीएम सोनोवाल ने खाली की थी सीट

असम में विधानसभा चुनाव के बाद भाजपा की सरकार बनने के बाद सर्बानंद सोनोवाल ने मुख्यमंत्री की कुर्सी संभाली थी. इस वजह से लखीमपुर लोकसभा सीट खाली हो गई थी. माजूली सीट से सोनोवाल मई में विधायक बने.

असम में लखीमपुर लोकसभा के अलावा बैठालांसो विधानसभा सीट पर उपचुनाव हो रहा है. दोनों सीटों पर 8,21,199 महिलाओं समेत कुल 16,91,313 वोटर हैं. जाहिर है नोटबंदी के बाद यह उपचुनाव आने वाले विधानसभा चुनाव के लिए संदेश हो सकते हैं, क्योंकि इसके बाद अगले साल पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं.

First published: 19 November 2016, 9:38 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी