Home » राजनीति » Lok Sabha bypoll result can affect majority of BJP and nda government in parliament
 

उपचुनाव: 3 लोकसभा सीटों के हारने से BJP के बहुमत के जादुई आंकड़े में लगेगी सेंध!

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 May 2018, 12:05 IST
(File Photo)

देश के अलग-अलग राज्यों की 4 लोकसभा सीटों पर हाल ही में उपचुनाव हुए. गुरुवार को शाम तक इन चारों सीटों के नतीजे भी आजाएंगे. हालांकि अभी वोटों को गिनती जारी है, जिसमें बीजेपी पीछे चल रही है. जहां विपक्षी दलों के लिए इन चुनावों के लिए खासा महत्व है तो वहीं सत्ताधारी बीजेपी पर भी उपचुनावों के नतीजों की एक खास अहमियत है.

हालांकि इस बात से भी साफ है कि नतीजों में भाजपा को हार मिले या जीत, उससे लोकसभा में बीजेपी के दबदबे को कोई खतरा नहीं पहुंचने वाला. यहां तक कि भाजपा के पास एनडीए के साथियों के बगैर भी बहुमत है. बता दें कि सरकार के सहयोगी दलों को मिलाकर एनडीए की सीटों की संख्या 300 के पार है.

 

आपकी जानकारी के लिए बता दें, लोकसभा की मौजूदा 536 सीटों में से भाजपा के पास 272 सीटें हैं, जबकि सदन की 8 सीटें फिलहाल खाली हैं. लोकसभा की इन आठ में से 4 सीटों के नतीजे फिलहाल प्रक्रिया में हैं. इस पर आज शाम तक स्थिति साफ हो जाएगी. इन 4 सीटों में से 3 सीटों पर बीजेपी भी चुनाव लड़ रही है. वहीं, नगालैंड की एक सीट पर बीजेपी ने पीडीए प्रत्याशी को समर्थन दिया हुआ है.

ये भी पढ़ेंः कांग्रेस को इस विधानसभा सीट पर निर्विरोध मिली जीत, ये है कारण

गुरुवार को आने वाले नतीजों के बाद लोकसभा की सीटों की संख्या 540 हो जाएगी. इन उपचुनावों में बीजेपी को अगर तीनों सीट पर हार भी मिलती है तो फिर भी भाजपा के पास जरूरी बहुमत के हिसाब से 271 सीटों से एक सीट ज्यादा ही होगी. वहीं, अगर इन तीन सीटों में से भाजपा कोई भी सीट जीतती है तो ये आंकड़ा 272 से आगे जाएगा.

बता दें कि लोकसभा की जिन 4 सीटों के नतीजे आ रहे हैं, उनमें से 3 सीटों पर पहले ही बीजेपी का कब्जा था. ऐसे में भाजपा के पास जीतने के ज्यादा चांस हैं लेकिन फिलहाल यूपी की कैराना सीट पर भाजपा पिछड़ती दिख रही है. बता दें कि इस सीट के लिए विपक्षी दलों ने एकजुटता दिखाई है. यही कारण है कि बीजेपी के खिलाफ कैराना में कांग्रेस, बसपा, सपा के समर्थन से आरएलडी प्रत्याशी तबस्सुम को मैदान में उतारा है.

First published: 31 May 2018, 11:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी