Home » राजनीति » Lok Sabha: Speaker Sumitra Mahajan accepts the No Confidence Motion moved by Congress and TDP with other opposition parties
 

लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव मंजूर

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 July 2018, 13:21 IST

लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने एनडीए सरकार के खिलाफ 12 विपक्षी पार्टियों के अविश्वास प्रस्ताव को मंजूर कर लिया है. कांग्रेस और टीडीपी  सहित विपक्ष ने सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था. 

आपको बता दें कि कांग्रेस समेत बारह विपक्षी दल बुधवार से शुरू होने वाले मानसून सत्र में भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली एनडीए के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी कर रहे थे. एनडीए के पूर्व सहयोगी तेलुगू देशम पार्टी ने बुधवार को लोकसभा सचिवालय को अविश्वास प्रस्ताव की सूचना दी थी.

बुधवार को संसद के मानसून सत्र की शुरुआत हुई. सत्र के पहले दिन संसद के दोनों सदनों में जोरदार हंगामा देखने को मिला. दलित, मॉब लिंचिंग और किसानों के मुद्दे को लेकर सदन में हंगामा शुरू हो गया. कांग्रेस और टीडीपी के कई सांसदों ने स्पीकर को अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया था जिसमें से एक प्रस्ताव को सदन में 50 से ज्यादा सांसदों के समर्थन के बाद स्पीकर की ओर से स्वीकार किया गया. अब इस प्रस्ताव पर अगले 10 दिन में चर्चा करने का वक्त तय किया जाएगा.

गौरतलब है कि बजट सत्र में भी मोदी सरकार के खिलाफ अविश्उवास प्रस्ताव पेश किया गया था. लेकिन अविश्वास प्रस्ताव स्थगन के कारण बहस नहीं की जा सकी थी.  इसके अलावा दोनों पार्टियां आंध्र प्रदेश के लिए विशेष श्रेणी की मांग कर रही हैं. वहीं ट्रिपल तलाक विधेयक और संसद सत्र के दौरान राज्यसभा के उप-सभापति पद के लिए चुनाव होने की उम्मीद है. दिसम्बर में लोकसभा ने ट्रिपल तालाक विधेयक को मंजूरी दे दी थी लेकिन अगले महीने राज्यसभा में इसे संख्यात्मक रूप से मजबूत विपक्षी दल ने रोक कर दिया था.

सोमवार को मिले 12 विपक्षी दलों ने फैसला किया कि वे राज्यसभा के उप-सभापति पद के लिए संयुक्त उम्मीदवार बनाएंगे. पिछले हफ्ते लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने सदस्यों को लिखा था कि वे सदन में जारी रखने के क्रम को ख़त्म करें.

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने भी विपक्षी दलों से मानसून सत्र के दौरान सुचारू रूप से सत्र चलाने में मदद करने के लिए सहयोग करने का आग्रह किया है. संसद के पिछले सत्र के दौरान लोकसभा ने लगभग 128 घंटे बर्बाद किये जबकि कव्वाल केवल 34 वे बैठे रहे.

ये भी पढ़ें-  जोरदार हंगामें के साथ शुरू हुआ संसद का मानसून सत्र, सपा-TDP ने सदन में की नारेबाजी

First published: 18 July 2018, 12:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी