Home » राजनीति » Loksabha election 2019: Mulayam singh agaist SP congress alliance, says congress deserves only 2 seats
 

लोकसभा चुनाव 2019: सपा-कांग्रेस गठबंधन पर बोले मुलायम- कांग्रेस की हैसियत सिर्फ 2 सीट की

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 April 2018, 12:01 IST

2019 लोकसभा चुनावों के मद्देनजर सपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह ने बड़ा बयान दिया है. मुलायम सिंह 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस से गठबंधन के पक्ष में नहीं हैं. उनका मानना है कि कांग्रेस की हैसियत सिर्फ 2 सीट की है. मुलायम सिंह ने कहा है कि सपा-बसपा गठबंधन में कांग्रेस को नहीं शामिल किया जाना चाहिए.

उनके मुताबिक कांग्रेस की हैसियत सिर्फ दो सीटों की है. प्रदेश की राजनीति में सपा-बसपा का गठबंधन लगभग तय माना जा रहा है. गोरखपुर व फूलपुर उपचुनाव में दोनों दल इसे आजमा चुके हैं. इस गठबंधन का मुलायम ने भी यह कहकर समर्थन किया है कि यदि दोनों ईमानदार रहे तो दिल्ली की राह आसान हो जाएगी.

ये भी पढ़ें- कठुआ गैंगरेप केस: मुख्य आरोपी के वकील ने महबूबा मुफ्ती को बताया जिहादी सीएम

गौरतलब है कि प्रदेश की राजनीति में सपा और बसपा का गठबंधन तय माना जा रहा है. गोरखपुर और फूलपुर के लोकसभा उपचुनावों में दोनों ही दलों ने इसे सफलतापूर्वक आजमाया भी है. हालांकि अभी यह तय नहीं है कि सपा और बसपा गठबंधन में कांग्रेस शामिल होगी की नहीं, लेकिन मुलायम सिंह ने स्पष्ट कर दिया है कि कांग्रेस को गठबंधन में नहीं लिया जाना चाहिए.

गौरतलब है कि 2017 के विधानसभा चुनाव में भी मुलायम कांग्रेस से गठबंधन के पक्ष में नहीं थे, लेकिन अखिलेश यादव ने कांग्रेस से गठबंधन कर चुनाव लड़ा और परिणाम निराशाजनक ही रहे. दरअसल, सपा और बसपा रनर अप फार्मूले के तहत सीटों का बंटवारा करना चाहती है.

जिसके अनुसार 2014 के लोकसभा चुनाव और 2017 के विधानसभा चुनाव में जिस दल के प्रत्याशी ने जीत दर्ज की या दूसरे नंबर पर रही उस सीट से उसी दल का प्रत्याशी मैदान में होगा. इस लिहाज से कांग्रेस को सात से ज्यादा सीटें नहीं मिलेंगी, लेकिन महागठबंधन की सूरत में राष्ट्रीय पार्टी होने के नाते कांग्रेस 20 सीटों की मांग कर सकती है.

First published: 26 April 2018, 12:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी