Home » राजनीति » Madhya Pradesh Political Crisis Kamal Nath Government Equation
 

मध्यप्रदेश के सियासी संकट के बीच जानिए क्या हैै राज्य में सरकार बनाने का गणित

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 March 2020, 23:09 IST

Madhya Pradesh Political Crisis: ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थित 17 विधायकों के बागी होने के कारण होली से एक दिन पहले मध्यप्रदेश का सियासी ड्रामा हाईवोल्टेज हो गया है. राज्य की कमलनाथ सरकार अल्पमत में आ जागगी, अगर ये बागी विधायक सरकार के खिलाफ चले जाते है. इसमें सबसे बड़ी बात यह है कि राज्य के छह मंत्री भी बागी हुए है. इस पूरे घटनाक्रम के बाद राज्य की कमलनाथ सरकार पर संकट के बादल मंडराने लगे है.

क्या है मध्यप्रदेश का गणति

मध्य प्रदेश में विधानसभा की 230 सीटें हैं और वर्तमान में 2 विधायकों के निधन के कारण दो सीटे खाली हैं और विधानसभा में विधायक की संख्या 228 ही हैं. मध्यप्रदेश में सरकार बनाने के लिए जादुई आंकड़ा 116 का है लेकिन दो विधायकों के निधन के कारण जादुई आंकड़ा 115 का हो गया है. कांग्रेस के पास मौजूदा समय में 114 विधायकों काे समर्थन है. इसके अलाव उसे बीएसपी के दो, समाजवादी पार्टी के एक और चार निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल है. ऐसे में कमलनाथ सरकार के पास कुल 121 विधायकों का समर्थन है.

अगर यह बागी विधायक सरकार के खिलाफ जाते हैं तो कांग्रेस के विधायकों की संख्या 104 रह जाएगी और सरकार गिर जाएगी. दूसरी तरफ बीजेपी के पास 107 विधायकों का समर्थन है और 230 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए उसे 115 विधायकों का जरूरत होगी. अगर सिंधिया समर्थक बीजेपी के समर्थन में आते हैं तो राज्य में बीजेपी की सरकार बन सकती है.

मंगलवार को बीजेपी विधायक दल की बैठक

राज्य में बढ़ रहे सियासी संकट के बीच बीजेपी ने विधायक दल की बैठक बुलाई है. मंगलवार को ही होली है, ऐसे में होली के दिन होने वाली यह बैठक काफी अहम है. मंगलवार शाम सात बजे यह बैठक होनी है. बताया जा रहा है कि इस विधायक दल की बैैठक में शिवराज सिंह को विधायक दल का नेता चुना जा सकता है. मौजूदा समय में गोपाल भार्गव एमपी में बीजेपी के विधायक दल के नेता है.

कहा जा रहा है कि इस विधायक दल की बैठक में राज्य के सभी सांसद भी मौजूद रहने वाले है. वहीं इन सब के बीच गृह मंत्री अमित शाह के घर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह बैठक कर रहे है और लगातार तेजी से बगलते घटनाक्रम पर नजर बनाए हुए है.खबरों के अनुसार इससे पहले शिवराज सिंह ने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी मुलाकात की है. वहीं अमित शाह के घर पर चल रही बैठक में नरेंद्र तोमर भी मौजूद है.

मध्यप्रदेश में सियासी संकट, 6 मंत्री समेत 16 विधायक पहुंचे बेंगलुरु, कमलनाथ ने बुलाई आपात बैठक

First published: 9 March 2020, 23:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी