Home » राजनीति » Madhya Pradesh: talks begin between farmers and CM Shivraj singh chauhan
 

MP किसान आंदोलन: अनशन के बीच CM शिवराज और किसानों की बातचीत

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 June 2017, 17:13 IST

मध्यप्रदेश में हिंसक किसान आंदोलन के बीच सूबे के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने BHEL दशहरा मैदान पर अनिश्चितकालीन उपवास शुरू कर दिया.

इस दौरान उन्होंने कहा, "जब-जब प्रदेश में किसानों पर संकट आया, मैं सीएम आवास से निकलकर उनके बीच पहुंच गया. हम नया आयोग बनाएंगे, जो फसलों की सही लागत तय करेगा. उस लागत के हिसाब से हम किसानों को सही कीमत दिलाएंगे. किसान आग न लगाएं, चर्चा के लिए आएं."

शिवराज सिंह चौहान की इस अपील के बाद किसानों का जत्था दशहरा मैदान में पहुंचने लगा और समस्यायों को लेकर चर्चा भी शुरू हो गई. किसान संगठनों के प्रतिनिधियों के अलावा रायसेन, बेगमगंज, मुगलियाछाप समेत कई इलाक़ों के किसानों की मुख्यमंत्री की किसानों से सीधी मुलाकात हुई. यह चर्चा लगातार जारी है.

इस दौरान शिवराज सिंह चौहान ने ट्विटर पर कहा, "किसानों को माइनस 10% पर खाद-बीज के लिए ऋण की व्यवस्था कराई, जो देश में कहीं और नहीं है. उन्होंने कहा कि जब भी ओला, पाला या कोई संकट आया मैं सीएम हाउस में नहीं बैठा, खेतों तक गया, आपके बीच गया." इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि पिछले साल प्याज की कीमत गिरी, तो मांग नहीं आयी, फिर भी हमने 6 रुपये प्रति किलो की दर से ख़रीदा.

बहरहाल ट्विटर पर शिवराज फॉर पीस हैशटैग के साथ टवीट्स किए जा रहे हैं. उम्मीद है कि बातचीत के ज़रिए ही इस संकट का कोई समाधान निकलेगा. सभी पक्षों के बीच चर्चा जारी है.

First published: 10 June 2017, 17:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी