Home » राजनीति » West Bengal CM Mamta Banerjee attacks PM Modi, why rupees 2000 note does not have Bengal Tiger?
 

'2000 रुपये के नए नोट में बंगाल टाइगर नज़र नहीं आ रहा है'

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 November 2016, 15:33 IST

नोटबंदी के फैसले के खिलाफ विपक्ष की जुगलबंदी में जुटी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दो हजार रुपये के नए नोट पर सवाल पूछा है. ममता ने नए नोट में बंगाल टाइगर की फोटो न होने पर एतराज जताया है.

ममता ने सवालिया लहजे में कहा, "हर कोई सुंदरवन और बंगाल टाइगर के बारे में जानता है. 2000 रुपये के नए नोट में बंगाल टाइगर नज़र नहीं आ रहा है. इस नए नोट में हाथी है. मोदी सरकार का कहना है कि हाथी राष्ट्रीय विरासत है, जबकि राष्ट्रीय पशु से उन्हें कोई मतलब नहीं है."

'अपने मन की करते हैं मोदी'

पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले को कठघरे में खड़ा करते हुए ममता ने कहा, "पीएम मोदी वही कर रहे हैं जो उन्हें पसंद है. वह कहते हैं कि हाथी हमारी राष्ट्रीय विरासत है.ठीक है, हमें इस बात पर कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन बंगाल टाइगर क्यों नहीं है?"

2000 के जारी नए नोट में एक तरफ महात्मा गांधी की तस्वीर है, जबकि दूसरी तरफ एक सैटेलाइट की फोटो के साथ मंगलयान लिखा हुआ है. इसके नीचे छोटे बॉक्स में हाथी, मोर और कमल से मिलते-जुलते फूल की फोटो है. 

केवल 10 रुपये के नोट में जानवर की फोटो

दो हजार के इस नए नोट की बाईं ओर स्वच्छ भारत मुहिम का लोगो है. जबकि इससे पहले 1000 और 500 रुपये के पुराने नोटों में किसी भी जानवर की फोटो नहीं थी. 100, 50 और 20 रुपये के नोट पर भी किसी जानवर की तस्वीर नहीं है. केवल 10 रुपये के नोट में टाइगर, हाथी और गैंडे की तस्वीर है.

ममता बनर्जी लगातार मोदी सरकार को नोटबंदी के फैसले पर घेर रही हैं. आजादपुर मंडी में उन्होंने अरविंद केजरीवाल के साथ रैली में हिस्सा लिया था. इस दौरान ममता ने कहा था कि केवल चार फीसदी लोग प्लास्टिक मनी का इस्तेमाल करते हैं और मोदी सरकार का यह फैसला गरीबों और मजदूरों के साथ धोखा है.

ममता इस मुद्दे पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से भी मुलाकात कर चुकी हैं. इस बीच 23 नवंबर यानी बुधवार को 200 विपक्षी सांसद संसद भवन परिसर में गांधी प्रतिमा के पास नोटबंदी के फैसले के खिलाफ धरना देने वाले हैं.

First published: 22 November 2016, 15:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी