Home » राजनीति » Many corporate figures including Adani, Ambani with PM Modi in Davos, WEF IN DAVOS
 

दावोस गए इस बड़े बिजमेसमैन ने बताया, मोदी को अपने भाषण में दुनिया को ये बताना चाहिए...

सुनील रावत | Updated on: 22 January 2018, 17:28 IST

वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम में हिस्सा लेने के लिए सोमवार 22 जनवरी को प्रधानमंत्री मोदी दोवोस में होंगे. पांच दिन तक चलने वाले इस सम्मलेन में पीएम मोदी समेत 130 हस्तियां शामिल हो रही हैं. यहां 23 जनवरी को पीएम मोदी अपना संबोधन करेंगे. पीएम मोदी की प्राथमिकता दुनिया के आर्थिक जगत के इस महाकुंभ में ‘मेक इन इंडिया’ के तहत वैश्विक कंपनियों को देश में निवेश के लिए प्रोत्साहित करने की होगी. भाषण में वो यहां भारत को खुली अर्थव्यवस्था के रूप में पेश कर सकते हैं.

कौन कौन होंगे पीएम मोदी के साथ

दावोस में प्रधानमंत्री मोदी के साथ आधा दर्जन केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, पीयूष गोयल, सुरेश प्रभु, धर्मेंद्र प्रधान, जितेंद्र सिंह और एम जे अकबर भी मौजूद होंगे. जबकि कारोबारियों में मुकेश अंबानी, गौतम अडाणी, अजीम प्रेमजी, राहुल बजाज, एन चंद्रशेखरन, चंदा कोचर, उदय कोटक और अजय सिंह समेत अन्य लोग शामिल हैं.

बिजनेस स्टैण्डर्ड के अनुसार एयरलाइन कंपनी स्पाइसजेट के सीईओ अजय सिंह भी पीएम मोदी के साथ दावोस में हैं. रिपोर्ट के अनुसार अजय सिंह का कहना है कि पीएम मोदी के पास दावोस में बताने को एक महान कहानी है. जिसमे युवा आबादी और दुनिया के लिए एक बड़े बाजार की कहानी शामिल है.

विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) की शिखर बैठक में शिरकत करने पहुंचे अजय सिंह का कहना है कि यह भारत के लिए बहुत बड़ा अवसर है, क्योंकि कोई भारतीय पीएम दावोस बैठक में 20 साल बाद भाग ले रहे हैं.

उन्होंने कहा, पिछले साल दावोस में चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग पर पूरी दुनिया का ध्यान केन्द्रित था. सिंह कहते हैं कि पीएम मोदी के पास  दावोस में बताने को दिवालियापन कानून, डिजीटलीकरण और त्वरित आधार, अर्थव्यवस्था का औपचारिकरण जैसे कई मुद्दे हैं. 

 

कौन हैं अजय सिंह 

स्पाइस जेट के सीईओ अजय सिंह कभी बीजेपी नेता प्रमोद महाजन के ओएसडी हुआ करते थे. पीएम मोदी के समर्थक के तौर पर अपना परिचय देने वाले सिंह ने 2014 में मोदी के चुनाव प्रचार में अहम भूमिका निभाई. 

कहा जाता है कि 'अबकी बार मोदी सरकार' उन्होंने ही दिया. जिसकी नक़ल अमेरिका  में डोनाल्ड ट्रम्प तक ने की. आज वे देश के उन सर्वोच्च तीन उद्योगपतियों में एक हैं, जिन्होंने मोदी सरकार के तीन साल में अपने कारोबार में 600 फीसदी से ज्यादा रिकॉर्ड मुनाफा कमाया.

अजय सिंह ने पिछले तीन वर्षों में अपनी कम्पनी स्पाइस जेट का शेयर महज 14 रुपये से 118 रूपए तक पहुंचा दिया. एयरलाइन के धंधे में ऐसा लाभ अब तक अकल्पनीय था. आज स्पाइस जेट की संपत्ति 27 अरब रूपए से ज्यादा है. बीते दिनों अजय सिंह में अमेरिका से 20 बोइंग विमान खरीदने का आर्डर दिया था. इन विमानों कि अनुमानित कीमत 300 अरब के आसपास है.

First published: 22 January 2018, 17:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी