Home » राजनीति » Missing law student, who accused Chinmayanand of harassment, found in Rajasthan
 

पूर्व BJP सांसद चिन्मयानंद पर आरोप लगाने वाली छात्रा का UP पुलिस ने लगाया पता

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 August 2019, 14:12 IST

उत्तर प्रदेश बीजेपी नेता चिन्मयानन्द पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली लॉ स्टूडेंट का राजस्थान में पता चला है. छात्रा को उसके मित्र के साथ पुलिस ने जयपुर से 95 किलोमीटर दूरे टोंक से 7 दिन बाद बरामद किया है. स्टूडेंट सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर करने के बाद लापता हो गई थी. दो दिन पहले वकीलों के एक समूह द्वारा अदालत का दरवाजा खटखटाने के बाद सुप्रीम कोर्ट की दो-न्यायाधीश पीठ ने शुक्रवार को इस मामले पर सुनवाई करने का फैसला किया है.

द हिन्दुस्तान टाइम्स अनुसार बरेली के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अविनाश चंद्रा ने बताया, "स्टूडेंट को एक युवक के साथ पुलिस टीम ने बरामद किया है." उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक ट्वीट में कहा कि इस मामले में आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जा रही है. छात्रा 24 अगस्त को सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट करने के तुरंत बाद गायब हो गई थी, जिसमें उसने कई प्रभावशाली लोगों पर उत्पीड़न का आरोप लगाया था. 

छात्रा के पिता ने इस मामले में भारतीय जनता पार्टी के नेता चिन्मयानंद के नाम शिकायत दर्ज करवाई थी, जो उसके कॉलेज प्रशासन के अध्यक्ष हैं. उत्तर प्रदेश पुलिस ने मंगलवार को चिन्मयानंद को अपहरण के आरोप में बुक किया था. यह वीडियो महिला के फेसबुक पेज पर शनिवार शाम के आसपास पोस्ट किया गया था, उसी दिन वह लापता हो गई थी.

छात्र के पिता ने भाजपा नेता पर उसे परेशान करने का आरोप लगाया था, लेकिन चिन्मयानंद के वकील ने इन आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि यह उन्हें फंसाने का प्रयास है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार भाजपा नेता ने कथित तौर पर इस मामले में चुप्पी साध ली और पूर्वी उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर में अपने निवास से 300 किमी दूर अपने हरिद्वार आश्रम में शरण ली. भाजपा नेता तीन बार के लोकसभा सांसद हैं और अटल बिहारी वाजपेयी के प्रशासन में राज्य मंत्री भी थे.

'मोदी सरकार ने RBI से जबरन 1,76,000 करोड़ रुपये लेकर देश को आर्थिक आपातकाल' में धकेला'

First published: 30 August 2019, 14:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी