Home » राजनीति » modi government can change the rules of purchase and selling of animals.
 

भैंस और ऊंट को प्रतिबंधित मवेशियों की लिस्ट से हटाएगी मोदी सरकार!

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 May 2017, 12:27 IST

राज्यों के विरोध के बाद केंद्र सरकार मवेशियों की खरीद-बेच के नियमों में बदलाव ला सकती है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, सरकार लिस्ट से भैंस और ऊंट के नाम हटाने पर दोबारा विचार कर सकती है.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ हाल ही में उद्योग जगत के कुछ प्रतिनिधियों की तरफ से दिए गए प्रस्तुतीकरण के बाद सरकार की तरफ से उन्हें ये आश्वासन दिया गया है कि आने वाले समय में सरकार नियमों में कुछ बदलाव ला सकती है.

भैंस और ऊंट के खरीदने-बेचने से हटेगा प्रतिबंध!

दरअसल केंद्र सरकार के पर्यावरण मंत्रालय ने मवेशियों की खरीदने और बेचने के लिए नए नियमों का नोटिफिकेशन जारी किया है. नियमों में फेरबदल के बाद अब बूचड़खानों के लिए जिन मवेशियों को खरीदने और बेचने पर रोक लगाई गई है, उनमें से भैंसों को हटाया जा सकता है.

हालांकि अभी इस मामले में कुछ भी तय नहीं हुआ है. फिलहाल केंद्रीय मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन विदेश में हैं. उनके वापस देश आने के बाद ही इस पर कोई फैसला लिया जा सकता है.

शुक्रवार को जारी हुआ था नोटिफिकेशन

मोदी सरकार ने शुक्रवार को नोटिफिकेशन जारी कर जिन मवेशियों पर रोक लगाई थी उनमें बैल, गाय, सांड़, भैंस, बछिया, बछड़े और ऊंट शामिल हैं. केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद केरल से लेकर चेन्नई, बेंगलुरु समेत देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हुए. पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और केरल के सीएम पिनाराई विजयन ने भी इस पर सवाल उठाए थे.

केंद्र सरकार के नए फैसले से देश के गोमांस निर्यात और चमड़ा कारोबार के प्रभावित होने की आशंका है. भारत ने वित्त वर्ष 2016-17 में 26,000 करोड़ रुपये के भैंस के मांस और 35,000 करोड़ रुपये के चमड़े और चर्म प्रोडक्ट्स का निर्यात किया था. इस कारोबार से करीब 35 लाख लोग जुड़े हुए हैं. ऐसे में सरकार कुछ पशुओं को लिस्ट से बाहर करने पर विचार कर रही है. 

First published: 30 May 2017, 12:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी