Home » राजनीति » Modi government last Monsoon session of Parliament to be held from 18th July to 10th August
 

18 जुलाई से शुरू होगा संसद का मानसून सत्र, NDA vs विपक्ष में घमासान होने के पूरे आसार

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 June 2018, 14:43 IST
(File Photo )

मोदी सरकार के आखिरी मानसून सत्र की तारीख का ऐलान हो गया है. संसद का मानसून सत्र अगले महीने की 18 जुलाई से शुरू होगा, जो 10 अगस्त तक चलेगा. केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार ने सोमवार को इसकी जानकारी दी. मानसून सत्र की तारीख के ऐलान से पहले संसद भवन में कैबिनेट कमेटी ऑन पार्लियामेंट्री अफेयर्स की बैठक हुई.

इसमें गृहमंत्री राजनाथ सिंह, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद के अलावा रामविलास पासवान और प्रकाश जावड़ेकर भी मौजूद रहे. बैठक में आपसी विचार विमर्श के बाद मानसून सत्र के लिए 18 जुलाई से 10 अगस्त के बीच का समय निर्धारित किया है.

आपको बता दें कि इससे पहले बजट सत्र हंगामें की भेंट चढ़ गया था. बजट सत्र में हंगामें की वजह से कई महत्वपूर्ण बिल लटक गए थे. इस बार भी हंगामें के आसार दिखाई दे रहे हैं. विपक्ष की कोशिश जम्मू कश्मीर, लिंचिंग सहित कई अन्य मुद्दों पर सरकार को घेरने की होगी.  इसके साथ ही इस सत्र में विपक्ष अपनी ताकत दिखाने की कोशिश करेगा. उसकी कोशिश यह दिखाने की होगी को वो नरेंद्र मोदी और बीजेपी के खिलाफ एकजुट हो चुका है.

इस सत्र मोदी सरकार की कोशिश कई अहम बिलों को पास कराने की होगी. इसमें ओबीसी के लिए राष्ट्रीय आयोग को संवैधानिक दर्जा, तीन तलाक और ट्रांसजेंडर बिल अहम माने जाने जा रहे हैं. इनको लेकर एक बार फिर से संसद में हंगामा देखने को मिल सकता है.

गौरतलब है कि बजट सत्र में विपक्ष ने सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था. लेकिन हंगामें की वजह से लोकसभा अध्यक्ष ने सदन व्यवस्थित ना होने का तर्क देते हुए उनके प्रस्ताव को स्वीकार नहीं किया था. टीडीपी और वाईएसआर कांग्रेस मोदी सरकार के खिलाफ अविश्वास सत्र लाना चाहते थे.

ये भी पढ़ें-  BJP सांसद ने सपना चौधरी के कांग्रेस में शामिल होने को लेकर कही 'गंदी बात'

First published: 25 June 2018, 14:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी