Home » राजनीति » Monsoon Session of Parliament begins today, Opposition parties to move no-confidence motion
 

मानसून सत्र : सरकार के खिलाफ 12 विपक्षी पार्टियां ला सकती हैं अविश्वास प्रस्ताव

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 July 2018, 11:11 IST

मानसून सत्र शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी दलों से शांति की अपील करते हुए कहा कि इस सत्र में सरकार सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार है. दूसरी ओर कांग्रेस समेत बारह विपक्षी दल बुधवार से शुरू होने वाले मानसून सत्र में भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली एनडीए के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ला सकते है. एनडीए के पूर्व सहयोगी तेलुगू देशम पार्टी ने बुधवार को लोकसभा सचिवालय को अविश्वास प्रस्ताव की सूचना दी.

बजट सत्र में उनकी पार्टी और विपक्षी वाईएसआर कांग्रेस पार्टी द्वारा किए गए अविश्वास प्रस्ताव स्थगन के कारण बहस नहीं की जा सकी थी. दोनों पार्टियां आंध्र प्रदेश के लिए विशेष श्रेणी की मांग कर रही हैं. वहीं ट्रिपल तलाक विधेयक और संसद सत्र के दौरान राज्यसभा के उप-सभापति पद के लिए चुनाव होने की उम्मीद है. दिसम्बर में लोकसभा ने ट्रिपल तालाक विधेयक को मंजूरी दे दी थी लेकिन अगले महीने राज्यसभा में इसे संख्यात्मक रूप से मजबूत विपक्षी दल ने रोक कर दिया था.

सोमवार को मिले 12 विपक्षी दलों ने फैसला किया कि वे राज्यसभा के उप-सभापति पद के लिए संयुक्त उम्मीदवार बनाएंगे. पिछले हफ्ते लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने सदस्यों को लिखा था कि वे सदन में जारी रखने के क्रम को ख़त्म करें.

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने भी विपक्षी दलों से मानसून सत्र के दौरान सुचारू रूप से सत्र चलाने में मदद करने के लिए सहयोग करने का आग्रह किया है. संसद के पिछले सत्र के दौरान लोकसभा ने लगभग 128 घंटे बर्बाद किये जबकि कव्वाल केवल 34 वे बैठे रहे.

ये भी पढ़ें : ग्रेटर नोएडा हादसा: 2 साल से निर्माणाधीन इमारत ढही, अब तक 3 शव बरामद

First published: 18 July 2018, 10:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी