Home » राजनीति » Nitin Gadkari praise Jawahar Lal Nehru speech says i like his opinion
 

नितिन गडकरी ने की जवाहर लाल नेहरू के भाषण की प्रशंसा, BJP में मच गया बवाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 December 2018, 12:10 IST

मोदी सरकार के बड़े मंत्री नितिन गडकरी इन दिनों अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में हैं. उन्होंने फिर एक ऐसा बयान दिया है जिसके बाद बीजेपी में फिर से भूचाल आ गया है. खुफिया विभाग के अधिकारियों को संबोधित करते हुए गडकरी ने पूर्व पीएम जवाहर लाल नेहरु को याद करते हुए कहा कि सहिष्णुता भारत की सबसे बड़ी पूंजी है.

नेहरु को याद करते हुए गडकरी ने कहा कि पूर्व पीएम ने कहा था कि भारत एक देश नहीं बल्कि आबादी है. अगर हम किसी समस्या का हल नहीं दे सकते तो हमें समस्या का हिस्सा भी नहीं बनना चाहिए. गडकरी ने असहिष्णुता को लेकर कहा कि सहनशीलता और विविधता में एकता भारतीय संस्कृति का महत्वपूर्ण पहलू है. वह इंटेलीजेंस ब्यूरो के 31वें एंडोमेंट लेक्चर में बोल रहे थे.

 

 

इससे पहले गडकरी ने तीन-चार दिन पहले कहा था कि अगर मैं पार्टी का अध्यक्ष हूं और मेरे सांसद या विधायक अच्छा नहीं करते हैं तो जिम्मेदार कौन होगा? नितिन गडकरी के इस बयान को मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ की हार से जोड़ा जाने लगा.

पढ़ें- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर उद्धव ठाकरे ने किया करारा हमला, बोले- आजकल तो चौकीदार ही चोर है..

इसके बाद गडकरी को ट्वीट कर सफाई देनी पड़ी. उन्होंने कहा, "वे हमेशा के लिए साफ कर देना चाहते हैं कि मेरे और बीजेपी नेतृत्व के बीच में दरार पैदा करने की साजिश कभी कामयाब नहीं होगी. मैने अपनी पोजिशन विभिन्न फोरम पर स्पष्ट की है और आगे भी करता रहूंगा और हमारे विरोधियों के नापाक मंसूबों को उजागर करता रहूंगा."

 

First published: 25 December 2018, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी