Home » राजनीति » Nitish Kumar: No one has the potential to fight with Narendra Modi Ji in 2019 general elections
 

नीतीश: 2019 में मोदी जी का मुक़ाबला करने की किसी में क्षमता नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 July 2017, 17:33 IST
कैच न्यूज़

बिहार में भाजपा के साथ सरकार बनाने के बाद राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ़ों के पुल बांध दिए हैं. पटना में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान नीतीश कुमार ने जहां लालू यादव पर निशाना साधा, वहीं पीएम मोदी की प्रशंसा की.

नीतीश कुमार ने कहा, "2019 के लोकसभा चुनाव में मोदी जी का मुकाबला करने की किसी में क्षमता नहीं है. किसी में क्षमता नहीं कि उनका मुकाबला करे. 2019 में मोदी जी ही प्रधानमंत्री बनेंगे." गुरुवार को ही नीतीश कुमार ने भाजपा के समर्थन से सरकार बनाई है. इससे पहले नीतीश ने तेजस्वी यादव के मामले में कड़ा रुख अपनाते हुए 20 महीने पुराना महागठबंधन तोड़ दिया था.

 

शक्ति परीक्षण के दौरान नीतीश ने भाजपा की मदद से बहुमत हासिल कर लिया. वैसे ये पहली बार नहीं है, जब नीतीश कुमार ने यू टर्न लेते हुए नरेंद्र मोदी की तारीफ की है. पटना में गुरु गोबिंद सिंह के प्रकाश पर्व के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में नीतीश और मोदी दोनों ने एक मंच से एक-दूसरे की तारीफ की थी.

इसके अलावा नीतीश कुमार केंद्र सरकार के नोटबंदी और जीएसटी जैसे कदमों की प्रशंसा कर चुके हैं. नीतीश कुमार और पीएम मोदी के बीच 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान जबरदस्त जुबानी जंग देखने को मिली थी. जब मोदी के डीएनए वाले बयान को लपकते हुए नीतीश ने बाहरी और बिहारी का मुद्दा छेड़ दिया था. चुनाव में नीतीश को इसका फायदा भी मिला. राजद,जेडीयू और कांग्रेस के महागठबंधन ने 243 में से 178 सीटों पर जीत दर्ज करते हुए प्रचंड बहुमत हासिल किया था.

नीतीश कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान यह भी साफ़ किया कि उपराष्ट्रपति चुनाव के दौरान उनका रुख़ नहीं बदलने वाला है. नीतीश ने कहा कि वे विपक्ष के उम्मीदवार गोपाल कृष्ण गांधी का समर्थन करेंगे. हालांकि नीतीश ने राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन किया था.

नीतीश ने लालू पर निशाना साधते हुए कहा कि लालू जी ने केवल मुझ पर आरोप लगाए, लेकिन तेजस्वी के मुद्दे पर कोई सफ़ाई नहीं दी. लालू पर चुटकी लेते हुए नीतीश ने कहा, "जब लालू जी पटना यूनिवर्सिटी छात्रसंघ का चुनाव लड़ रहे थे, उस वक्त मैं इंजीनियरिंग कॉलेज का छात्र था. मैंने 500 में से 450 वोट उनको दिलाए थे."

First published: 31 July 2017, 17:33 IST
 
अगली कहानी