Home » राजनीति » No BJP govt in 2019 if ballot papers are used in polls by modi govt says bsp supremo mayawati afterup civic poll result
 

मोदी को माया की चुनौती, ईमानदार हैं तो बैलेट पेपर से कराएं 2019 चुनाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 December 2017, 15:46 IST

यूपी नगर निकाय चुनाव में भाजपा ने शानदार प्रदर्शन किया है. मेयर पद की 16 में से 14 सीट भाजपा की खातें में आई हैं. लेकिन इन चुनावों ने एक पार्टी के लिए संजीवनी का काम किया है और वो पार्टी है बहुजन समाज पार्टी. यूपी में बहुजन समाज पार्टी की हालत लोकसभा चुनावों से ही खराब है. लोकसभा चुनाव में मोदी की आंधी में पार्टी को एक सीट भी नसीब नहीं हुई थी.

इसके बाद यूपी में हुए विधानसभा चुनाव में भी बीएसपी का रिजल्ट बहुत खराब रहा है. इसके बाद बीएसपी सुप्रीमो मायावती के लिए पार्टी को दोबारा खड़ा करना मुश्किल हो गया था. लेकिन नगर निकाय चुनाव में बीएसपी का प्रदर्शन अन्य पार्टियों की अपेक्षा बेहतर रहा है. बीएसपी ने मेयर पद की दो सीटों में हासिल की हैं. इसके अलावा नगर पालिका परिषद अध्यक्ष के चुनाव में भी बीएसपी दूसरे नंबर पर है.

निकाय चुनाव में बेहतर प्रदर्शन करने के बाद शनिवार को बीएसपी प्रमुख मायावती ने मोदी सरकार को बड़ी चुनौती दी है. मायावती ने कहा, "अगर भाजपा ईमानदार और लोकतंत्र के प्रति आस्थावान है तो वो ईवीएम मशीन को हटाकर बैलेट पैपर से चुनाव करवाए. आगामी लोकसभा चुनाव 2019 में है. अगर भाजपा को लगता है कि लोग उनके साथ हैं तो इसे लागू करे."

इतना ही नहीं मायावती ने भाजपा को चुनौती देते हुए कहा कि मैं गारंटी देती हूं कि बैलेट पेपर से चुनाव होने पर भाजपा 2019 में सत्ता में दोबारा नहीं लौट पाएगी. गौरतलब है कि यूपी निकाय चुनाव में भी कुछ जगह से ईवीएम में गड़बड़ी की बातें कथित तौर पर सामने आई हैं.

हम आपको बता दें कि इस साल यूपी समेत चार राज्यों में विधानसभा चुनाव होने के बाद ईवीएम को लेकर सभी पार्टियों ने संदेह व्यक्त किया था. उस समय मायावती उन नेताओं में शामिल थीं. उन्होंने यूपी चुनाव में धांधली की बात की बात उठाई थी. यूपी विधानसभा चुनाव में पीएम मोदी की आंधी में सपा, बसपा और कांग्रेस का सफाया हो गया था.

First published: 2 December 2017, 15:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी