Home » राजनीति » Mamta Banerjee's protest in Lucknow today against demonetization
 

नोटबंदी: दिल्ली के बाद लखनऊ में 'दीदी' का हल्लाबोल, सपा का भी समर्थन

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 November 2016, 10:16 IST
(फाइल फोटो)

मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले के खिलाफ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दिल्ली के बाद अब उत्तर प्रदेश का रुख किया है. राजधानी लखनऊ में तृणमूल कांग्रेस आज मोदी सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रही है.

खास बात ये है कि ममता बनर्जी के इस प्रदर्शन को सत्ताधारी समाजवादी पार्टी अपना समर्थन दे रही है. इससे पहले सोमवार को नोटबंदी पर लेफ्ट के भारत बंद का कोई खास असर नहीं देखा गया था.

लखनऊ में ममता बनर्जी का विरोध प्रदर्शन 1090 चौराहे पर आयोजित हो रहा है. वहीं सोमवार शाम को ममता बनर्जी लखनऊ पहुंची. इस दौरान अमौसी एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव खुद उनके स्वागत के लिए पहुंचे.

'मोदी को राजनीति से उखाड़ फेंकूंगी'

इससे पहले ममता बनर्जी ने पीएम मोदी के खिलाफ मुहिम तेज करने का अल्टीमेटम देते हुए कहा कि वह पीएम मोदी के आवास के बाहर धरना देंगी. ममता ने कहा कि भले ही उनकी जान चली जाए, लेकिन वह मोदी की राजनीति को उखाड़ फेंकेंगी.

पीएम मोदी को तानाशाह बताते हुए ममता ने कहा, "मैं सभी से एक अपील करती हूं कि आप यह संकल्प लें कि चाहे मैं जिंदा रहूं या मर जाऊं, लेकिन आप (मोदी) को राजनीति से बाहर खदेड़ देंगे. मोदी बाबू राजनीति में आप जैसे तानाशाह की कोई जगह नहीं है. यह एक लोकतांत्रिक देश है."

ममता: तानाशाही नहीं चलेगी

विरोध प्रदर्शन के दौरान ममता ने 'तानाशाही नहीं चलेगी' जैसे नारे लगाए. नोटबंदी का फैसला वापस लेने की मांग करते हुए ममता ने कहा, " कोई भी फैसला पर्याप्त तैयारी के बाद लिया जाना चाहिए, नहीं तो आम आदमी के लिए इसके नतीजे भयावह हो जाते हैं. आपके निर्णय की वजह से 80 लोगों को खुदकुशी करनी पड़ी. न तो बैंकों में रुपया है और न लोगों की जेबों में. किसानों, मजदूरों के पास खाना खाने तक के पैसे नहीं हैं."

इससे पहले ममता बनर्जी ने दिल्ली के आजादपुर इलाके में सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ जनसभा में हिस्सा लिया था. इस दौरान ममता ने कहा था कि पीएम मोदी के फैसले से देश की जीडीपी को रोजाना 25 हजार करोड़ की चपत लग रही है.

First published: 29 November 2016, 10:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी