Home » राजनीति » Note Ban: Subramanian Swamy blam to Jaitley for the all problems
 

नोटबंदी: स्वामी ने साधा जेटली पर निशाना, ठहराया कमियों के लिए जिम्मेदार

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 November 2016, 14:26 IST
(एजेंसी)

मोदी सरकार के द्वारा नोटबंदी के संदर्भ में मची अफरा-तफरी के लिए भाजपा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने वित्त मंत्री अरुण जेटली को जिम्मेदार ठहराया है.

उन्होंने कहा है कि इस बहाने को स्वीकार नहीं किया जा सकता कि मंत्रालय को योजना में दूर रखा गया था.

हांगकांग के दैनिक अखबार साउथ चाइना मार्निंग पोस्ट ने भाजपा नेता स्वामी के हवाले से लिखा है, "मैं नोटबंदी की तैयारियों में कमी को देखकर चकित हूं. भाजपा की सरकार लगभग ढाई साल से सत्ता में है."

स्वामी ने जेटली को निशाने पर लेते हुए आगे कहा, "वित्त मंत्री को इसके लिए पहले ही दिन से तैयारी करनी चाहिए थी. यह तर्क देना आसान है कि मंत्रालय को इन बातों में शामिल नहीं किया गया था, लेकिन इस तरह की आकस्मिक योजना के लिए इस बहाने को स्वीकार नहीं किया जा सकता."

गौरतलब है कि सुब्रमण्यम स्वामी इन दिनों हांगकांग में हैं और वे सोमवार को फॉरेन कॉरेस्पांडेंट क्लब में भारत में भ्रष्टाचार विरोध प्रयास पर वक्तव्य देंगे.

राज्यसभा सांसद स्वामी ने कहा कि इस योजना के लिए सड़क किनारे कियोस्क लगाए जाने चाहिए थे. इसके अलावा वरिष्ठ नागरिकों के लिए विशेष कियोस्क की व्यवस्था की जानी चाहिए थी. ये सारी बातें नोटबंदी योजना में शामिल होनी चाहिए थी.

इससे पहले स्वामी ने कहा था कि पूर्ववर्ती सरकार ने नोट बनाने में काम आने वाले कागज की आपूर्ति का ठेका लंदन की उसी कंपनी को दिया था, जो पाकिस्तान को भी नोट का कागज देती है. यही कारण है कि पाकिस्तान को नकली भारतीय करेंसी बनाने और आतंकियों को वित्तीय सहायता देने में मदद मिलती है.

अब तक विदेश में खाता रखने वाले किसी व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किए जाने के बारे में पूछे जाने पर स्वामी ने कहा कि यह सवाल मुझसे नहीं, बल्कि सीधे वित्त मंत्री जेटली से पूछिए.

स्वामी ने कहा कि उन्हें इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि अब तक इस मामले में कुछ भी क्यों नहीं किया गया. 

First published: 14 November 2016, 14:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी