Home » राजनीति » Note ban: Uma bharti comment on PM Modi decision
 

नोटबंदी: उमा भारती ने कहा, मोदी ने ‘सांपों के बिल’ में हाथ डाला है

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 November 2016, 13:44 IST
(पीटीआई)

नोटबंदी के मामले में विपक्ष के द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाये जाने के खिलाफ केन्द्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती मैदान में उतरी हैं. उमा ने विपक्ष को आड़े हाथ लेते हुए उसकी तुलना सांप से कर दी.

जल संसाधन एवं गंगा संरक्षण मंत्री उमा भारती ने रविवार को मेरठ में कहा कि पीएम मोदी ने 1000 और 500 रुपये के पुराने नोटों को बंद करके ‘सांपों के बिलों’ में हाथ डाल दिया है.

केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने नोटबंदी के फैसले पर विपक्षी दलों को घेरते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के इस फैसले से विपक्ष में बैठे सभी सांप बौखलाये हुए हैं और अपना-अपना फन उठाये हुए हैं, पूरे देश की जनता को अब प्रधानमंत्री के साथ मिलकर इन भ्रष्टाचारियों के फन को कुचलना है.

दिल्ली के सीएम कोजरीवाल पर हमला करते हुए उमा भारती ने कहा कि प्रधानमंत्री के फैसले से आम आदमी को नहीं बल्कि आम आदमी पार्टी को ज्याादा परेशानी हो रही है.

उन्होंने कहा कि आम जनता इस फैसले की अहमियत जानती है और वह इससे काफी खुश है. केंद्र सरकार ने भ्रष्टाचारियों और काले धन वालों को निकालने के लिए यह फैसला लिया है और इससे देश की गरीब जनता का हित होगा.

केन्द्रीय मंत्री ने विपक्षी दलों द्वारा लगाये जा रहे आरोपों पर कहा कि विपक्ष का आरोप है कि विदेशों से काला धन केन्द्र सरकार नहीं लाई, जबकि विदेशों में जमा काला धन विभिन्न रास्तों के माध्यम से भारत में आ चुका है.

First published: 21 November 2016, 13:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी