Home » राजनीति » Only few industrialists gets profit in Modi's Gujarat
 

'मोदी मॉडल में फायदा मेहनतकश को नहीं उद्योगपतियों को मिलता है'

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 September 2017, 13:03 IST

गुजरात के तीन दिवसीय दौरे पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि किसान, छोटे व्यापारी, मजदूर समेत गुजरात के लोग काफी मेहनत करते हैं, लेकिन यह फायदा सिर्फ 5-10 औद्योगिक घरानों को मिलता है और यह मोदी-मॉडल बदलना चाहिए.

राहुल ने यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और कहा कि राज्य में 'रिमोट कंट्रोल' से चलने वाली सरकार नहीं चलेगी. उन्होंने कहा, "अगर हम गुजराज में बदलाव लाना चाहते हैं तो हमें गुजरात सरकार बनानी होगी, रिमोट कंट्रोल से चलने वाली सरकार यहां नहीं चलेगी."

राहुल गांधी ने वादा किया है कि अगर कांग्रेस को सत्ता मिली तो पार्टी इसका इस्तेमाल यहां के लोगों के लिए रोजगार, किसानों की मदद और कर्ज़ माफी के लिए करेगी. उन्होंने यह भी कहा कि जिनके पास घर नहीं है, हम उन्हें घर मुहैया कराएंगे. यह गरीबों और कमज़ोरों की सरकार होगी. हमें इसे पटरी पर लाना होगा.

पाटीदारों के युवा नेता हार्दिक पटेल राहुल गांधी के दौरे का स्वागत कर चुके हैं. वहीं, राहुल गांधी ने अपने भाषण के दौरान मोदी से नाख़ुश चल रहे पाटीदारों को भी अपने पाले में करने की कोशिश की. उन्होंने कहा, "पाटीदारों को मोदी सरकार में गोलियां खानी पड़ी, लेकिन कांग्रेस इसे प्यार और भाईचारे के साथ आगे बढ़ाना चाहती है."

उन्होंने कहा, "मैं पाटीदार समुदाय से कहना चाहता हूं कि भाजपा के लोग आप पर गोलियां चलाने के दोषी हैं. यह कांग्रेस का तरीका नहीं है. हम प्यार और भाईचारे से काम करते हैं."

राहुल ने कहा, "आप गुजरात को रिमोट कंट्रोल से नहीं चला सकते. गुजरात किसानों, मजदूरों और छोटे व्यापारियों का है."

First published: 27 September 2017, 13:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी