Home » राजनीति » Owaisi: UP is not for only Akhilesh & Mulayam, i came again and again
 

ओवैसी: यूपी मुलायम या अखिलेश की जागीर नहीं, बार-बार आऊंगा

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 November 2016, 13:16 IST
(एजेंसी)

एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदउद्दीन ओवैसी ने शुक्रवार को अलीगढ़ में कहा, "उत्तर प्रदेश मेरे बाप का है. मैं यहां बार-बार आऊंगा, यह मुलायम या अखिलेश की जागीर नहीं है. उत्तर प्रदेश में बाबा साहेब अंबेडकर का संविधान लागू है, किसी यादव परिवार का फरमान नहीं चलता है."

ओवैसी ने कहा कि नोटबंदी के फैसले से सबसे ज्यादा परेशान गरीब आदमी है. 40 करोड़ आदमी नाम तक नहीं लिख सकता, केवल 3 फीसदी लोगों के पास डेबिट, क्रेडिट कार्ड है. बैंको की लाइन में लगकर लोग मर रहे हैं और मोदी जी जापान जाकर हंस रहे हैं. ऐसा लग रहा है कि वह कोई पीएम न हों बल्कि कॉमेडी शो के आर्टिस्ट हैं.

एआईएमआईएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि इस फैसले से करप्शन नहीं, गरीब खत्म हो जाएगा. मुझे बताया गया कि अलीगढ़ का ही कारोबार बहुत मंदा हो गया है. वह गरीब लोग जिनका कहीं निवेश नहीं है, जिनके जीने का आधार कैश ही, वही परेशान हैं.

उन्होंने कहा कि सपा और भाजपा की मिलीभगत का आप अंदाजा लगाइए. बदायूं के नजीब के घर सपा के ही सांसद हैं, नहीं जाते, लेकिन मुलायम सिंह के यहां शादी में मोदी जी आते हैं. यह क्या नौटंकी है? क्या यही सपा की मुसलमानों के साथ सहानुभूति है. इसके अलावा चुनाव के समय सेक्युलर पार्टियां मुसलमानों से चाहती हैं कि वह सेक्युलर पार्टी को वोट दें. क्या सारा सेक्युलरिज्म का बोझ मुसलमान उठाएंगे?

ओवैसी ने कहा, "अलीगढ़ में दो मुसलमान विधायक हैं, इन्होंने मुसलमानों के लिए क्या किया? विकास के लिए भी क्या किया? मैं अलीगढ़ आया तो सड़कों पर गड्ढे ही गड्ढे. क्या है यह? उन्होंने कहा कि मोदी शरीयत में तीन तलाक के बहाने दखल देने का ऐलान कर चुके हैं."

एआईएमआईएम सांसद ने कहा, "गोवा में कानून है कि 25 साल तक अगर किसी हिंदू बहन को बच्चा नहीं हो, तो पति दूसरी शादी कर सकता है. क्या मोदी ने इसको बदलने की बात कही. इसी तरह 2011 की जनगणना में पता चला कि 11 वर्ष की बच्ची की दर गैर मुसलमानों में ज्यादा थी. क्या इसकी बात हुई. दूसरी ओर मुसलमानों में तलाक की दर एक फीसदी से भी कम है."

First published: 19 November 2016, 13:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी