Home » राजनीति » Mandi: PM Modi first time speaks on Surgical Strike, inaugurate three power projects
 

'जो इजराइल करता था वो भारत ने किया'- सर्जिकल स्ट्राइक पर पहली बार बोले पीएम मोदी

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 October 2016, 14:34 IST
(ट्विटर)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आखिरकार पहली बार सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर इशारों में बयान दिया. हिमाचल प्रदेश के मंडी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने इजराइल का जिक्र करते हुए भारतीय सेना की कार्रवाई की तारीफ की.

29 सितंबर को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भारतीय सेना के डीजीएमओ ने पीओके में आतंकी शिविरों पर सर्जिकल स्ट्राइक का एलान किया था. प्रधानमंत्री बनने के बाद पीएम मोदी आज अपने पहले हिमाचल प्रदेश दौरे पर मंडी पहुंचे. पीएम ने मंडी में तीन पनबिजली प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया.

सेना के पराक्रम की चर्चा

सर्जिकल स्ट्राइक की चर्चा किए बिना जनसभा के दौरान पीएम मोदी ने कहा, "आजकल पूरे देश में हमारी सेना के पराक्रम की चर्चा हो रही है. पहले हम कभी इजराइल ने ऐसा किया सुनते थे. लेकिन देश ने देखा कि भारत की सेना भी किसी से कम नहीं है."

पीएम मोदी ने आगे कहा, "जितना गौरव आज जो सेना में तैनात हैं, उनके लिए करते हैं, उतना ही गौरव उन रिटायर्ड जवानों का भी है. वे इस महान परंपरा को कायम रखते हुए नई पीढ़ी को ताकत देकर आए हैं. इसलिए आज जो तैनात हैं उनको सौ-सौ सलाम है, तो रिटायर होकर आए पूर्व सैनिकों को भी सौ-सौ सलाम है."

मंडी में तीन पावर प्रोजेक्ट का लोकार्पण

मंडी में पीएम मोदी ने 800 मेगावाट के कोल बांध, 520 मेगावाट के पार्वती तृतीय चरण और 412 मेगावाट की रामपुर पनबिजली परियोजना का लोकार्पण किया. मंडी रैली को भाजपा ने परिवर्तन रैली का नाम दिया.

पीएम मोदी ने जनसभा के दौरान कहा, "इस देव भूमि में मुझे आपके दर्शन करने का मौका मिला और आप यहां आए. इसके लिए मैं आपका आभारी हूं. मैं काशी से लोकसभा का सांसद हूं और छोटी काशी में सर झुकाने का आज मुझे मौका मिला, यह मेरे लिए सौभाग्य की बात है.

पीएम बनने के तकरीबन ढाई साल बाद पहले दौरे पर सफाई देते हुए पीएम ने कहा, "मैंने यहां आने में देर कर दी. मुझे लग रहा था कि आप नाराज होंगे, लेकिन भीड़ देखकर ऐसा नहीं लग रहा कि आप नाराज हैं. हिमाचल के लोगों का दिल हिमालय जैसा बड़ा है."

पीएम मोदी ने कहा, "आज दिल्ली में एक ऐसी सरकार है, जो विकास के माध्यम से जीवन के हर क्षेत्र को स्पर्श करने का प्रयास कर रही है."

'वन रैंक वन पेंशन लागू कराया'

जनसभा के दौरान वन रैंक वन पेंशन का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा, "हमने 40 साल से लटके एक रैंक एक पेंशन को लागू करवाया. इसमें सेना की मदद हमने ली. सेना के जवानों से इस पर चर्चा की और हमने कहा कि हम एक बार में नहीं दे पाएंगे. जिसके बाद फैसला हुआ कि इसका भुगतान चार किस्तों में किया जाएगा. हम एक किस्त दे भी चुके हैं."

पीएम ने ओआरओपी पर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए विपक्ष को भी घेरा. पीएम ने कहा, "इस मामले को लेकर कई साल तक राजनीति हुई. वे कुछ फंड इसके लिए लाए भी, लेकिन उन्हें जानकारी नहीं थी कि इसको लागू करने से कितना आर्थिक बोझ आएगा. हमने इसका सामाधान निकाल लिया."

सीएम वीरभद्र पर निशाना

पीएम ने इस दौरान हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को निशाने पर लिया. पीएम कहा, "हमारे मुख्‍यमंत्रियों ने हिमाचल प्रदेश में काम किया. एक मुख्‍यमंत्री की पहचान जल के कारण हुई तो दूसरे की पहचान सड़क परियोजना के कारण हुई."

पीएम ने वीरभद्र सिंह का नाम न लेते हुए कहा, "यहां दूसरी पार्टियों के मुख्‍यमंत्री हुए, जिनकी चर्चा यहां भ्रष्‍टाचार के कारण होती है. हम अटकी हुई परियोजनाओं को आगे बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं."

मंडी में परिवर्तन रैली के पहले मंच से जय श्री राम के नारे लगाए गए. हिमाचल प्रदेश में अभी कांग्रेस की सरकार है. राज्य में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं.

First published: 18 October 2016, 14:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी