Home » राजनीति » pm narender modi remove red beacon for central government officers and centeral ministers.
 

'लाल बत्ती' कल्चर पर पीएम मोदी ने लगाई रोक, इन 5 लोगों को ही मिलेगी छूट

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 April 2017, 14:27 IST

वीवीआईपी कल्चर को खत्म करने के लिए पीएम मोदी ने बड़ा फैसला लिया है. ये फैसला मोदी की कैबिनेट मीटिंग में मोदी सरकार ने लिया है. अब देश में एक मई के बाद कुछ चुनिंदा लोग ही लाल बत्ती का इस्तेमाल कर सकते हैं, सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक देश में  केंद्रीय मंत्री और अधिकारी अपनी गाड़ी में  लाल बत्ती नहीं लगा सकेंगे. इस फैसले की औपचारिक घोषणा आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए सरकार के वरिष्ठ मंत्री करेंगे .

1 मई को पूरी दुनिया में मजदूर दिवस मनाया जाता है. मोदी सरकार इस दिन ये संदेश देना चाहती है कि उसके अब मंत्री वीआईपी कल्चर से दूर रहेंगे. देश के संवैधामनिक पदों पर बैठे कुछ गणमान्य लोगों के अलावा अब कोई लाल बत्ती का इस्तेमाल नहीं कर सकेगा.

देश के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, चीफ जस्टिस, उपराष्ट्रपति और स्पीकर को इस फैसले से छूट मिलेगी. आने वाली 1 मई से अब ये 5 लोग ही लाल बत्ती का इस्तेमाल कर पाएंगे. बताया जा रहा है कि 1 मई तक प्रधानमंत्री भी लाल बत्ती का इस्तेमाल नहीं करेंगे.

हालांकि राज्य सरकारें इस फैसले को अपने राज्य में लागू करने का फैसला खुद लेंगी, लेकिन एक बात तय है कि इस फैसले के बाद राज्यों पर इसे लागू करने का दबाव रहेगा.  

नवंबर में पांच राज्यों में हुए चुनावों के बाद पंजाब में कांग्रेस की अमरिंदर सरकार ने लालबत्ती पर रोक लगा दी है. इस फैसले के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री, मंत्रियों, विधायकों, अधिकारियों और वरिष्ठ प्रशासनिक पदों पर बैठे लोगों के अलावा किसी को लालबत्ती के इस्तेमाल की इजाजत नहीं होगी. इसके बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लालबत्ती से हूटर निकालने की बात कही थी.

First published: 19 April 2017, 14:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी