Home » राजनीति » Prashant Kishore said We need a leader who does not become a hanger for Bihar
 

JDU से निष्कासन पर बोले प्रशांत किशोर- बिहार को ऐसा नेता चाहिए जो पिछलग्गू न बने

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 February 2020, 12:10 IST

जनता दल यूनाइटेड (JDU) से निकाले गए चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोला है. समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार प्रशांत किशोर का कहना है कि ''हम वो नेता चाहते हैं जो सशख्त हो, जो बिहार के लिए अपनी बात कहने में किसी का पिछलग्गू ने बने''. प्रशांत किशोर ने कहा कि ''नीतीश जी के साथ मेरे अच्छे संबंध रहे हैं. मेरे मन में उनके लिए अपार सम्मान है. मैं उनके फैसले पर सवाल नहीं उठाऊंगा''.

हाल ही में प्रशांत किशोर ने नागरिकता कानून पर जेडीयू की विचारधारा के खिलाफ कई बयान दिए थे. किशोर ने सीएए पर मोदी सरकार की कई मौकों पर आलोचना की. चुनाव रणनीतिकार से राजनेता बने प्रशांत किशोर ने पूर्व राजनीतिक गुरु नीतीश कुमार पर कई असहज सवाल पूछे थे, जिसके बाद उन्हें पिछले महीने जनता दल यूनाइटेड से निष्कासित कर दिया था.

प्रशांत किशोर ने कहा "पार्टी की विचारधारा के बारे में मेरे और नीतीश जी के बीच कई चर्चाएं हुई हैं. नीतीश जी ने हमेशा हमें बताया कि पार्टी कभी भी गांधी जी के आदर्शों को नहीं छोड़ सकती ... लेकिन अब पार्टी उन लोगों के साथ है जो गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे पर नरम हैं.

उन्होंने नीतीश कुमार और उनकी सरकार को चुनौती दी कि वह डेटा पर उनका सामना करें, उन्होंने दावा किया कि 2005 और 2015 के बीच बिहार में बहुत कम प्रगति हुई है. अपने निष्कासन पर उन्होंने कहा "नीतीश कुमार ने मुझे एक बेटे के रूप में देखा और मैंने हमेशा उन्हें एक पिता के रूप में देखा. यह मुझे पार्टी में लेने या मुझे निष्कासित करना नीतीश कुमार का विशेषाधिकार है, मैं हमेशा उनका सम्मान करूंगा."

अहमदाबाद: 45 परिवारों का दावा- ट्रंप की भारत यात्रा से पहले उनसे खाली करवाया जा रहा है घर

First published: 18 February 2020, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी