Home » राजनीति » राष्ट्रपति चुनाव में इस चेहरे को भाजपा बना सकती है अपना उम्मीदवार
 

राष्ट्रपति चुनाव: इस चेहरे को NDA बना सकता है अपना उम्मीदवार

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 June 2017, 11:42 IST

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर भाजपा ने अपनी तैयारियां तेज़ कर दी हैं. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार का नाम तय करने के लिए एक तीन सदस्यीय कमेटी के गठन का एलान किया. इस कमेटी में देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरुण जेटली और सूचना-प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू हैं.

सूत्रों के मुताबिक भाजपा ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार का नाम तय करने के लिए मंथन तेज कर दिया है. एनडीए की तरफ से  शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता और पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया जा सकता है.

प्रकाश सिंह बादल ही क्यों?

सूत्रों के मुताबिक, भाजपा का मानना है कि बादल के नाम पर न केवल एनडीए, बल्कि यूपीए की कुछ पार्टियां जिसमें एनसीपी प्रमुख है अपना समर्थन दे सकती हैं. एनसीपी के एक शीर्ष नेता ने बताया, "भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से हमें बादल साहब के बारे में संकेत मिला. उनका विरोध करना मुश्किल होगा. अकालियों के साथ इमरजेंसी के खिलाफ लड़ने वाली डीएमके जैसी पार्टियां भी उनके नाम को चुनौती नहीं देंगी."

विपक्ष को भाजपा पर भरोसा नहीं

विपक्षी पार्टियों की बात करें तो वे भाजपा की ओर से एक राय वाले कैंडिडेट का नाम आने लाने को लेकर आश्वस्त नजर नहीं आ रही हैं. एनसीपी लीडर तारिक अनवर का कहना है, "हमें नहीं लगता कि भाजपा किसी आरएसएस बैकग्राउंड वाले शख्स को नजरअंदाज करके बादलजी को उम्मीदवार बनाएगी. सरकार के पास बस 24000 वोट ही कम हैं."

दरअसल तारिक अनवर राष्ट्रपति चुनाव को लेकर विपक्षी नेताओं की उप-कमिटी के सदस्य हैं. उन्होंने कहा, "अगर हमें कैंडिडेट फाइनल करना हुआ, तो हम ऐसा 24 जून तक करेंगे."

नायडू की संभावनाएं खत्म

भाजपा की तीन सदस्यीय कमेटी में गृह मंत्री राजनाथ सिंह, शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू और वित्त एवं रक्षा मंत्री अरुण जेटली को शामिल किया गया है. सूत्रों की मानें तो खुद नायडू राष्ट्रपति पद के लिए दिलचस्पी दिखा रहे थे. सूत्रों के मुताबिक, नायडू को पैनल में शामिल करने की मतलब यही है कि राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति पद के लिए उनकी संभावनाएं खत्म हो चुकी हैं.

17 जुलाई को होना है चुनाव

देश के अगले राष्ट्रपति का चुनाव 17 जुलाई को होगा और मतगणना 20 जुलाई को होगी. देश के 13वें राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो जाएगा.

राष्ट्रपति पद के लिए नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख 28 जून है. ऐसे में एनडीए अपने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार का नाम जल्द फाइनल करना चाहता है.

First published: 13 June 2017, 11:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी