Home » राजनीति » AAP Punjab Manifesto: 25 Lakh jobs and employment opportunities will be created in next five years
 

पंजाब में आप का घोषणापत्र जारी, जानिए 10 बड़ी बातें

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 January 2017, 16:45 IST

पंजाब में विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव प्रचार तेज हो चुका है. कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, शिरोमणि अकाली दल और बीजेपी ने प्रचार में अपनी ताकत झोंक दी है. इस बार के चुनाव में आम आदमी पार्टी भी मजबूत दावेदार है. लोकसभा चुनाव में पार्टी को 4 सीटों पर जीत मिली थी. 

लिहाजा राज्य की 117 विधानसभा सीटों पर आप ने अपने प्रत्याशियों को उतारकर इस बार का मुकाबला त्रिकोणीय बना दिया है. आम आदमी पार्टी ने शुक्रवार को पंजाब चुनाव के लिए अपने घोषणापत्र का एलान कर दिया है. 'आप दा पंजाबिया नाल इकरारनामा' नाम से जारी घोषणापत्र में कई बड़े वादे किए गए हैं. 

इसमें राजनाीतिक रंजिश की वजह से एनडीपीएस के मामलों को हटाने के साथ ही अगले पांच साल के दौरान 25 लाख युवाओं को नौकरी देने का वादा किया गया है. वहीं 1984 के दंगों में प्रभावित हर परिवार को पांच लाख रुपये देने की बात भी शामिल है.

इसके अलावा सामाजिक सुरक्षा पेंशन के तहत विधवाओं और वृद्धावस्था पेंशन को पांच सौ रुपये मासिक से बढ़ाकर 2500 रुपये और अम्मा कैंटीन की तर्ज पर पांच रुपये में सस्ते खाने का वादा भी शामिल है. एक नजर आम आदमी पार्टी के घोषणापत्र की 10 बड़ी बातों पर: 

घोषणापत्र की 10 बड़ी बातें

1. सरकारी ठेकों से आप की सरकार माफिया राज को खत्म कर देगी. सांसद, विधायक, मंत्री और उनके रिश्तेदारों की सरकारी ठेकों के लिए अर्हता नहीं होगी. 

2. कार्यप्रणाली में पारदर्शिता और ईमानदारी लाने के लिए पंजाब में सभी निजी स्कूलों का सालाना ऑडिट अनिवार्य होगा. बिना वजह के स्कूलों में फीस बढ़ोतरी को रोका जाएगा.  हर प्राइमरी स्कूल में कम से कम पांच टीचर होंगे.

3. चीफ मिनिस्टर स्टूडेंट बेनिफिट स्कीम के तहत नवीं क्लास में एडमिशन लेने वाले छात्रों को सत्र की शुरुआत में मुफ्त लैपटॉप दिया जाएगा. सरकारी स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे जिससे छात्रों के माता-पिता कभी भी अपने बच्चे की निगरानी कर सकें.

4. प्राइमरी, मिडिल और सेकेंडरी स्कूल में खाली शिक्षकों के 29000 पदों को आप की सरकार आने पर भरा जाएगा. कॉलेज जाने वाले छात्रों के लिए सरकार सीसीटीवी लगी बस मुहैया कराएगी. 

5. ड्रग एडिक्शन के शिकार लोगों के पुनर्वास के मकसद से रोजगार मुहैया कराने के लिए सरकार व्यापार और उद्योग को प्रोत्साहन देगी. सरकार के सभी पुनर्वास केंद्रों पर फ्री डी-एडिक्शन इलाज उपलब्ध कराया जाएगा. इसके लिए मनोचिकित्सकों को भी रखा जाएगा. छह महीने के अंदर ड्रग के शिकार लोगों का पुनर्वास होगा.  

6. स्कूल ऑफ एडिक्शन स्टडीज की स्थापना की जाएगी, जो हर साल 150 छात्रों को स्नातक और परास्नातक की डिग्री देगा. एक महीने के अंदर ड्रग सप्लाई चेन को नेस्तनाबूद कर दिया जाएगा. 24 घंटे का एंटी ड्रग टॉल फ्री नंबर शुरू होगा, जिस पर जनता ड्रग डीलर का स्टिंग करके रिपोर्ट कर सकेगी.

7. चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों का नामांकन भरते वक्त रैंडम ड्रग टेस्ट अनिवार्य होगा. सभाी स्थानीय निकाय और पंचायत चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों को खुद को ड्रगमुक्त घोषित करते हुए एफिडेविट पर दस्तखत करना होगा. 

8. ड्रग डीलर को मरने तक उम्रकैद की सजा दिलाने के लिए विशेष कानून बनाया जाएगा. ऐसे लोगों की संपत्ति जब्त करके नीलाम कर दी जाएगी. राजनीतिक रूप से प्रेरित और झूठे मामले (एनडीपीएस केस भी) वापस लिए जाएंगे. ड्रग की बिक्री और सप्लाई को चोट पहुंचाने के लिए पंजाब पुलिस के तहत स्पेशल ड्रग टास्क फोर्स को राज्य और जिला स्तर पर बनाया जाएगा.      

9. अगले पांच साल के दौरान 25 लाख नौकरियां और रोजगार के अवसर पैदा किए जाएंगे. हर जिला मुख्यालय में जॉब क्वालीफाइंग एग्जामिनेशन सेंटर बनाए जाएंगे. सरकारी नौकरियों में अप्लाई करने के लिए कोई फीस नहीं देनी होगी. अभी यह फीस 500 से 3000 रुपये के बीच है.

10. पंजाब को कारोबार और उद्योग का हब बनाने के लिए आप की सरकार बड़ा अभियान चलाएगी. आप की सरकार 147 स्किल डेवलपमेंट सेंटर (हर ब्लॉक में एक) स्थापित करेगी. पंजाब के 10 बड़े शहरों में इंक्यूबेशन सेंटर स्थापित किए जाएंगे. कृषि और उससे जुड़े उद्योगों पर विशेष जोर दिया जाएगा. दोआबा इलाके में कांशीराम यूथ स्किल यूनिवर्सिटी की स्थापना की जाएगी. मालवा और माझा में इसके दो रीजनल कैंपस होंगे.

First published: 27 January 2017, 16:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी