Home » राजनीति » Rafale has put this village of Chhattisgarh into trouble, know the whole story
 

राफेल ने छत्तीसगढ़ के इस गांव को डाल दिया है मुश्किल में, जानिए पूरी कहानी

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 April 2019, 11:17 IST
(फोटो : दैनिक भास्कर )

 

भारत की राष्ट्रीय राजनीति में राफेल जहां बड़ा मुद्दा बना हुआ है वहीं छत्तीसगढ़ के एक गांव में चुनाव के दौरान राफेल पर लोगों में चिंता है. दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार यह गांव नेशनल हाईवे-53 पर महासमुंद से करीब 135 किलोमीटर दूर स्थित है. इस गांव में 150 परिवार रहते हैं. हालांकि गांव का राफेल से कोई लेना देना नहीं है लेकिन चुनावों के दौरान गांव में राफेल बड़ा मुद्दा बन गया है. मामला यह है कि इस गांव का नाम राफेल है और आसपास के गांव वाले इस गांव वालों का मजाक उड़ाते हैं.

 

रिपोर्ट के अनुसार गांव वालों का कहना है कि जब भी वह दूसरे गांव में जाते हैं तो उन्हें लोगों के सवालों और तंजों से गुजरना पड़ता है. लोग उन्हें कहते हैं कि अगर कांग्रेस और राहुल गांधी सत्ता में आये तो राफेल की जांच होगी. राफेल विवाद के बाद यह गांव ज्यादा चर्चा में आया. गांव के लोगों का कहना है कि चर्चा में आने से क्या मिलेगा, गांव को लाभ तो तब होगा जब पीएम मोदी और राहुल गांधी इस गांव में आये. यहां सोमवार को प्रचार को आखिरी दिन है.

गांव वालों का कहना है कि इस गांव में प्रचार के लिए अब तक कोई नहीं आया, उनका कहना है कि चुनाव कांग्रेस जीते या बीजेपी उन्हें तो उनकी मूलभूत जरूरतें चाहिए. सिंचाई के लिए पानी चाहिए. हालांकि इस गांव का नाम राफेल रखे जाने की कहानी अब तक कोई नहीं जानता. उनका कहना है कि यह गांव 21 साल से है लेकिन आजतक गांव की इतनी चर्चा कभी नहीं हुई. इस बारे में गांव की महिला सरपंच का कहना है कि उन्हें नहीं पता सब लोग उनके गांव के पीछे क्यों पड़े हैं.

खनन माफियाओं की काली करतूत, ट्रेनी आईएएस अधिकारी को जेसीबी मशीन चढ़ाकर मारने की कोशिश

First published: 15 April 2019, 10:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी