Home » राजनीति » rahul gandhi attacks on bihar cm nitish kumar to quit the Mahagathbandhan and join nda.
 

राहुल गांधी: नीतीश कुमार ने स्वार्थ के लिए जनता को धोखा दिया

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 July 2017, 11:14 IST

नीतीश कुमार ने गुरुवार को छठी बार बिहार के सीएम पद की शपथ ली. राजभवन में सुबह दस बजे राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने नीतीश को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. इस्तीफे के महज 16 घंटे के अंदर नीतीश की दूसरी बार ताजपोशी हुई है. नीतीश कुमार द्वारा महागठबंधन तोड़कर भाजपा की मदद से सरकार बनाने पर कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने निशाना साधा है. 

राहुल गांधी ने कहा कि बिहार की जनता ने सांप्रदायिक ताकतों से लड़ने के लिए महागठबंधन को दो साल पहले जनादेश दिया था. नीतीश कुमार ने अब अपने फायदे के लिए महागठबंधन तोड़कर उन्हीं ताकतों से हाथ मिला लिया है.

 

मीडिया से बातचीत में राहुल गांधी नीतीश कुमार पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा, "वो सत्ता पाने के लिए कुछ भी कर सकते हैं. उनके लिए कोई नियम और विश्वसनीयता मायने नहीं रखती. तीन-चार महीने से प्लानिंग चल रही थी. मुझे इस बारे में पहले ही पता चल चुका था. नीतीश कुमार खुद के स्वार्थ के लिए कुछ भी कर सकते हैं."

20 महीने बाद टूटा महागठबंधन

बुधवार की शाम नीतीश के इस्तीफे के बाद 20 महीने से चल रही महागठबंधन की सरकार गिर गई थी. इसके बाद देर रात नीतीश कुमार को जद (यू) और भाजपा संयुक्त विधायक दल का नेता चुन लिया गया. नीतीश ने देर रात ही नई सरकार बनाने का दावा पेश किया.

बिहार भाजपा के सीनियर नेता और पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने गुरुवार को नीतीश के बाद शपथ ली. उन्हें एक बार फिर बिहार का उपमुख्यमंत्री बनाया गया है. इस शपथ ग्रहण समारोह में भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं के भी हिस्सा लिया.

बिहार में एनडीए की सरकार के अन्य म‍ंत्रियों को बाद में शपथ दिलाई जाएगी. राज्यपाल ने सदन में बहुमत परीक्षण 28 जुलाई को कराने का निर्णय लिया है.

First published: 27 July 2017, 11:14 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी