Home » राजनीति » Rahul Gandhi says modi govt is looking for a Math tutor.
 

राहुल गांधी: मोदी सरकार को मैथ्स ट्यूटर की ज़रूरत

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 July 2017, 11:02 IST

नोटबंदी के आठ महीने बाद भी भारतीय रिजर्व बैंक पुराने नोटों की गिनती करने में जुटा है. आरबीआई के गर्वनर उर्जित पटेल का कहना है कि नोटों की गिनती जारी है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने उर्जित पटेल के बयान पर गुरुवार को ट्वीट करते हुए चुटकी ली.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मुद्दे को लेकर प्रधानमंत्री कार्यालय पर निशाना साधा, और ट्वीट किया. राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा, "भारत सरकार गणित का ट्यूटर तलाश कर रही है. प्रधानमंत्री कार्यालय को जल्द से जल्द आवेदन भेजें."

दरअसल संसद की स्थायी समिति अगले हफ्ते शुरू होने जा रहे मानसून सत्र में नोटबंदी को लेकर अपनी रिपोर्ट पेश करने वाली है, इसलिए पटेल को समन जारी कर बुलाया गया था. पटेल से यह प्रश्न पूछा गया कि नोटबंदी के बाद 500 और 1000 रुपये के कितने पुराने नोट 30 दिसंबर तक वापस लौटे?

सूत्रों ने बताया कि उन्होंने समिति को बताया कि पुराने नोटों को गिनने का काम लगातार जारी है और केंद्रीय बैंक गिनती के दौरान नकली नोट को छांटती जा रही है और इन नोटों के छांटने के लिए विशेष मशीनों की खरीद की गई है. अभी ऐसी कई मशीनों की खरीद की प्रक्रिया भी चल रही है. 

पटेल ने कहा कि कुल 17.7 लाख करोड़ के पुराने नोट वापस लिए गए और 15.4 लाख करोड़ के नए नोट प्रचलन में वापस लौट गए हैं. संसदीय समिति की इस बैठक की अध्यक्षता कांग्रेस नेता एम. वीरप्पा मोइली ने की, जो तीन घंटे तक चली. इसके सदस्यों में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी मौजूद थे.

First published: 14 July 2017, 11:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी