Home » राजनीति » Congress party wants the debate under adjournment motion, question is are we being allowed to speak: Rahul Gandhi
 

राहुल गांधी: नोटबंदी एक घोटाला, PM ने करीबियों को पहले बताया, JPC जांच हो

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 November 2016, 12:28 IST
(एएनआई)

नोटबंदी के मुद्दे पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के हमलावर तेवर जारी हैं. पीएम मोदी पर राहुल ने एक बार फिर निशाना साधा है.

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, "हमारा मानना है कि नोटबंदी का मोदी सरकार का फैसला एक घोटाला है. पीएम नरेंद्र मोदी ने एलान करने से पहले ही अपने करीबी मित्रों को इसकी जानकारी दे दी थी. हम इस मामले की संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से जांच चाहते हैं."

राहुल गांधी ने संसद की कार्यवाही बाधित होने के मुद्दे पर कहा, "कांग्रेस पार्टी कार्यस्थगन प्रस्ताव के तहत चर्चा चाहती है. सवाल यह है कि क्या सदन में हमें बोलने की इजाजत मिलेगी."

'वित्त मंत्री को नहीं पता, कारोबारियों को पता'

वहीं भाजपा के इस सवाल पर कि पीएम संसद में मौजूद हैं फिर भी विपक्ष चर्चा के लिए तैयार नहीं है राहुल ने कहा, "स्पीकर बहस से मना कर रही हैं. सवाल प्रधानमंत्री के वहां होने का नहीं है, सवाल यह है कि क्या हमें संसद में बोलने दिया जाएगा."

राहुल ने इस दौरान कहा, "देश के वित्त मंत्री को इतने बड़े फैसले की जानकारी नहीं थी, लेकिन उद्योगपतियों को एलान से पहले ही इस बारे में पता चल चुका था."

सरकार ने विपक्ष के रवैए पर सवाल उठाया है. केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, "आज प्रधानमंत्री के लोकसभा में मौजूद होने के बावजूद विपक्ष सदन की कार्यवाही क्यों नहीं चलने दे रहा है?"

मायावती का मोदी पर हमला

बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी एक बार फिर पीएम मोदी पर नोटबंदी को लेकर निशाना साधा है. मायावती ने कहा, "मैं पूछना चाहती हूं पीएम से कि अगर उन्होंने इतना अच्छा काम किया है तो वो घबरा क्यों रहे हैं?"

बसपा सुप्रीमो ने कहा, "मैं राष्ट्रपति से अपील करती हूं कि प्रधानमंत्री को बुलाकर लोगों को आ रही समस्याओं को लेकर कदम उठाने के निर्देश दें."

First published: 23 November 2016, 12:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी