Home » राजनीति » Raid on Karti chidambaram, know what is the whole case, P chidambaram, jorbag
 

कार्ति पर ईडी की छापेमारी, चिदंबरम बोले कुछ नहीं मिला, जानिये क्या है पूरा मामला

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 January 2018, 13:22 IST

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम पर प्रवर्तन निदेशलय (ईडी) ने बड़ी छापेमारी की है. खबरों की माने तो ये छापेमारी कार्ति चिदंबरम के दिल्ली, चेन्नई सहित पांच ठिकानों पर की गयी. छापेमारी आईएनएक्स मीडिया मामले जुडी हुई बतायी जा रही है.

 

इस छापेमारी के बाद पी चिदंबरम बेटे कार्ति के बचाव में मीडिया के सामने आये. चिदंबरम ने कहा कि मनी लॉन्ड्रिंग के तहत ईडी की ओर जांच का कोई मतलब नहीं बनता है, चिदंबरम ने कहा, ''इस मामले में सीबीआई या किसी एजेंसी द्वारा कोई एफआईआर दर्ज नहीं है, मुझे अनुमान था कि वे चेन्नई के घर की तलाशी दोबारा करेंगे लेकिन वे जोर बाग (दिल्ली में) आए. लेकिन फिर भी छापेमारी की जा रही है''. उन्होंने कहा कि जोरबाग में स्थित बंगला कार्ति का नहीं मेरा है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार प्रवर्तन निदेशालय के पांच अधिकारी सुबह साढ़े सात बजे से चिदंबरम के घर पहुंचे और करीब साढ़े तीन घंटे तक छानबीन करने के बाद सुबह 11 बजे वहां से निकले.

गौरतलब है कि विदेशी निवेश संवर्द्धन बोर्ड (FIPB) द्वारा 2007 में आईएनएक्स मीडिया समूह को 305 करोड़ रुपये के विदेशी निवेश के प्रस्ताव को मंजूरी देने में हुई कथित अनियमितताओं के मामले में सीबीआई भी पहले कार्ति चिदंबरम से पूछताछ कर चुकी है.

आरोप है कि कार्ति चिदंबरम की कंपनी एडवांटेज स्ट्रैटेजिक कंसल्टिंग इन्वेस्टमेंट कंसलटेंट का काम करती थी, जबकि विदेशी इन्वेस्टमेंट को क्लियर करना वित्त मंत्री पी चिदंबरम के हाथ में था. 

First published: 13 January 2018, 13:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी