Home » राजनीति » Raj Thakre: why only poor people in queue for money, not rich a single man
 

राज ठाकरे: कालेधन वाला नहीं सिर्फ गरीब ही पैसे के लिए लाइन में खड़ा है

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:39 IST
(फाइल फोटो)

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ने नोटबंदी को लेकर जनता के बीच फैली अफरा-तफरी के लिए मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा है.

राज ठाकरे ने केंद्र सरकार से पूछा कि इतना बड़ा फैसला सोच-समझकर क्यों नहीं लिया. कालेधन वालों को अबतक इस नोटबंदी से कोई फर्क नहीं पड़ा है, बल्कि इसके उल्टा सिर्फ गरीब ही बैंकों की लाइन में खड़ा दिख रहा है.

राज ठाकरे ने कहा कि मोदी सरकार फैसला तो अच्छा है और अगर सफल रहा तो इसकी तारीफ भी करूंगा. लेकिन अगर यह फैसला अनुमान के मुताबिक सही नहीं रहा तो देश रसातल में मिल जाएगा. मोदी जी, इतने विश्वास से जनता ने देश हाथ में दिया है, ऐसे में आपने इतना बड़ा फैसला बिना सोचे-समझे क्यों लिया?

ठाकरे ने कहा कि अगर फैसला गलत हुआ तो हमारा देश 25 साल पीछे चला जाएगा. जिनके पास काला धन है, अब तक उनपर छापा क्यों नहीं मारा गया? सिर्फ आम लोग ही अपने पैसे के लिए लाइन में क्यों खड़े नजर आ रहे हैं?

इसके साथ ही राज ने सवाल उठाया कि 2 हजार के नोट छापना 6 महीने से शुरू था तो उस पर उर्जित पटेल का सिग्नेचर कैसे है?

उन्होंने कहा कि 500-1000 का नोट बंद कर 2000 का नोट लाने से काला पैसा बंद होगा क्या? नोटबंदी की वजह से पैदा हुए हालात को देखते हुए लग रहा है कि देश अराजकता की तरफ जा रहा है.

राज ने कहा कि सरकार ने 50 दिन मांगे हैं लेकिन उससे क्या होगा. कैबिनेट मंत्रियों तक नहीं पता कि क्या फैसला हुआ. भाजपा ने 2014 चुनाव का हिसाब दिया नहीं है.

राज ठाकरे ने नरेंद्र मोदी पर सीधे-सीधे हमला करते हुए कहा कि मोदी जी अगर आपको काला धन से तकलीफ थी तो आप कैसे चुनकर  आए हैं, जरा ये भी तो जनता को बताइये. 

First published: 19 November 2016, 4:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी