Home » राजनीति » Rajasthan: Sachin Pilot posters removed from Congress headquarters, speculation about removal from party
 

Rajasthan: कांग्रेस मुख्यालय से निकाले गए सचिन पायलट के पोस्टर, पार्टी से निकाले जाने की अटकलें तेज

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 July 2020, 12:22 IST

Rajasthan Politics: राजस्थान की राजनीति में बड़ा उठापटक देखने को मिल रहा है. इस बीच जयपुर के कांग्रेस मुख्यालय से सचिन पायलट के पोस्टर हटाने की खबर सामने आ रही है. पिछले कुछ दिनों से सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बीच सियासी मनमुटाव चल रहा है. माना जा रहा है कि इसी कारण अशोक गहलोत समर्थकों ने कांग्रेस कार्यालय से सचिन पायलट के पोस्‍टर हटाए हैं.

सचिन पायलट कांग्रेस विधायक दल की बैठक में हिस्‍सा लेने के लिए नहीं पहुंचे हैं. खबर सामने आ रही है कि पर्यटन मंत्री विश्‍वेंद्र सिंह भी बैठक में शामिल नहीं होने जा रहे. उन्‍होंने पार्टी को सूचना भी दे दी है. हालांकि उन्होंने यह कहा है कि वह व्‍यक्तिगत कारणों से बैठक में शामिल नहीं हो पाएंगे. लेकिन माना जा रहा है कि वह सचिन पायलट के समर्थन में कांग्रेस विधायक दल की मीटिंग में शामिल नहीं होंगे.

पश्चिम बंगाल: रस्सी से लटका मिला बीजेपी विधायक का शव, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

जिस तरह से सचिन पायलट के पोस्टर निकाले गए हैं, माना जा रहा है कि उन्हें पार्टी से निकालने का ऐलान भी किया जा सकता है. कांग्रेस पार्टी ने विधायक दल की मीटिंग के लिए व्हिप काफी पहले जारी कर दिया है. इसके बाद भी पायलट का न पहुंचना बगावत को साफ-साफ प्रदर्शित करता है.

माना जा रहा है कि उनको पार्टी से निकालकर रघुवीर मीणा और महेश जोशी को अगला कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष बनाया जा सकता है. सचिन पायलट के बगावती तेवर के बाद राजस्‍थान कांग्रेस ने सख्‍त रुख अपना लिया है. कांग्रेस विधायक दल की बैठक के लिए पार्टी ने जो व्हिप जारी किया गया है. उसके अनुसार बैठक में मौजूद रहने की बाध्यता हो गई है. और जो विधायक बैठक में नहीं पहुंचेंगे, उनकी सदस्यता समाप्त हो जाएगी. 

Coronavirus : बढ़ते जा रहे हैं रोजान आने वाले मामले, 24 घंटे में 28,701 नए मामले, 500 मौतें

दूसरी तरफ सचिन पायलट के भाजपा में आने की अटकलों पर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया का एक बयान सामने आया है. उन्होंने कहा है कि सचिन पायलट का भाजपा में स्वागत है. उन्होंने कहा कि यह सारी लड़ाई कां ग्रेस पार्टी की आपसी कलह की वजह से है.

राजस्थान : क्या सिंधिया की राह चलेंगे पायलट, गहलोत के पास कितने MLA, BJP को कितनी जरूरत

Rajasthan Political Crisis: अल्पमत में आई गलहोत सरकार, 30 विधायकों ने सचिन पायलट को दिया समर्थन- रिपोर्ट

First published: 13 July 2020, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी