Home » राजनीति » ram vilas paswan says bjp need to change mass perception towards of minorities dalits
 

पासवान की बीजेपी को नसीहत, 'दलितों और मुस्लिमों के प्रति सोच बदले'

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 March 2018, 12:49 IST

यूपी और बिहार उपचुनाव में बीजेपी को मिली करारी हार ने बीजेपी के सामने मुश्किलें पैदा कर दी है. एनडीए की सहयोगी पार्टियां ही बीजेपी पर बगावत करने का आरोप लगाने लगी हैं. अब लोक जनशक्ति पार्टी अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने बीजेपी को नसीहत दे डाली. उन्होंने कहा कि बीजेपी नेताओं को दलितों और अल्पसंख्यकों के बारे में अपनी राय बदलने की जरूरत है. बता दें कि रामविलास पासवान की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी का केंद्र की एनडीए सरकार में सहयोगी पार्टी है. 

बिना सोचे समझे टिप्पणी ना करें बीजेपी नेता-पासवान

पासवान ने उत्तर प्रदेश एवं बिहार के उपचुनावों में खराब प्रदर्शन को देखते हुए एनडीए नेताओं से बिना सोचे-समझे टिप्पणी करने से बचने की भी सलाह दी है. पासवान ने बीजेपी पर आरोप लगाया कि बीजेपी में कुछ खास लोगों को ज्यादा तवज्जो दी जाती है. उन्होंने केंद्र में सत्तारूढ़ एनडीए के नेताओं की टिप्पणियों को लेकर भी चिंता जताई. उन्होंने कहा कि उनसे ऐसा संदेश गया है कि गठबंधन समाज के कुछ वर्गों के खिलाफ है.

'दलित और अल्पसंख्यकों के लिए सोच बदले बीजेपी'

केंद्रीय मंत्री पासवान ने कहा कि क्या भाजपा में धर्मनिरपेक्ष नेता नहीं हैं. पासवान ने कहा बीजेपी को अपने बारे में जनधारणा में बदलाव की जरूरत है, खासकर अल्पसंख्यक और दलितों के मामले में. सुशील मोदी, राम कृपाल यादव जैसे लोग हैं, क्या होता है कि उनकी आवाज़ को दबा दिया जाता है और ऐसे अन्य लोग भी हैं जिनकी आवाज़ सुनी जाती है.

बता दें कि बिहार में बिहार के अररिया लोकसभा सीट के उपचुनाव के लिए नौ मार्च को भाजपा के लिए चुनाव प्रचार करते हुए पार्टी की बिहार इकाई के अध्यक्ष नित्यानंद राय ने कथित रूप से कहा था कि आरजेडी उम्मीदवार के चुनाव जीतने पर अररिया आतंकी संगठन आईएसआईएस का गढ़ बन जाएगा. चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के लिए राय के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी.

First published: 19 March 2018, 12:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी