Home » राजनीति » Ramlila maidan name will not replace with Former Pm atal bihar vajpayee says manoj tiwari bjp delhi president
 

'हम भगवान राम को पूजते हैं, रामलीला मैदान का नाम बदलने का सवाल ही नहीं है'

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 August 2018, 16:35 IST

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली के रामलीला मैदान को बदलने को लेकर बड़ा बयान दिया है. शनिवार सुबह मीडिया रिपोट्स में दावा किया जा रहा था दिल्लली के मशहूर रामलीला मैदान का नाम भाजपा के दिग्गज नेता और देश के तीन बार प्रधानमंत्री रहे अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखा जा सकता है.

दरअसल, ये खबर आ रही थी कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम रामलीला मैदान का नाम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखने का विचार कर रहा है. इसके बाद मेयर आदेश गुप्ता ने इस पर सफाई दी. मेयर आदेश गुप्ता ने कहा," कई प्रस्ताव आए हैं. नामकरण की एक प्रक्रिया है. बैठक में ही निर्णय होता है. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर हम किसी तरह का विवाद नहीं चाहते. ऐसी कई जगहें हैं, जहां का नाम अटल जी पर रखा जा सकता है. " 

दिल्ली: अटल बिहारी वाजपेयी के लिए बदला जाएगा ऐतिहासिक रामलीला मैदान का नाम

इन खबरों के सामने आने के बाद विवाद शुरू हो गया. भाजपा की तरफ से भाजपा सांसद मनोज तिवारी और दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस पर जवाब दिया. मनोज तिवारी ने कहा, " हम भगवान राम की पूजा करते हैं. इसलिए रामलीला मैदान का नाम बदलने का सवाल नहीं उठता. अगर कोई ये कहता है तो इसका मतलब ये नहीं कि वो बात मानी जाएगी."

इस मामले पर दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल ने भाजपा पर तगड़ा हमला बोला. उन्होंने  ट्वीट कर लिखा, ''रामलीला मैदान इत्यादि के नाम बदलकर अटल जी के नाम पर रखने से वोट नहीं मिलेंगे.  भाजपा को प्रधानमंत्री जी का नाम बदल देना चाहिए. तब शायद कुछ वोट मिल जायें. क्योंकि अब उनके अपने नाम पर तो लोग वोट नहीं दे रहे.''

'PM मोदी का नाम बदल कर अटल रख दे तब जीतेगी BJP'

First published: 25 August 2018, 16:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी