Home » राजनीति » RSS नेता कृष्ण गोपाल बोले- शाहजहां का पुत्र दाराशिकोह था भारतीयता का प्रतीक
 

RSS नेता कृष्ण गोपाल बोले- शाहजहां का पुत्र दाराशिकोह था भारतीयता का प्रतीक

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 September 2019, 11:59 IST
(ANI)

आरएसएस नेता कृष्ण गोपाल ने पूछा है मुसलमान भारत में डरते क्यों हैं, यह समझना मुश्किल है क्योंकि पारसी, बौद्ध और यहूदी जैसे अन्य अल्पसंख्यक, जो संख्या में बहुत कम हैं, वह भारत में असुरक्षित महसूस नहीं करते हैं. पीटीआई के अनुसार आरएसएस के संयुक्त महासचिव गोपाल प्रिंस दारा शिकोह पर आयोजित एक सम्मेलन में बोल रहे थे. गोपाल ने कहा, "भारत में कितने पारसी हैं ... मुश्किल से 50,000, जैन 45 लाख और लगभग 80 लाख बौद्ध हैं ... यहूदी केवल 5,000 हैं." "वे किसी से डरते नहीं हैं."

उन्होंने इस्लामिक विद्वान रमीश सिद्दीकी द्वारा लिखे गए एक लेख का उल्लेख करते हुए कहा कि भारत में मुसलमानों को डरना नहीं चाहिए क्योंकि उनकी 16 करोड़ से अधिक की आबादी है. गोपाल ने पूछा "मुसलमान 16 करोड़ से अधिक हैं तो वे क्यों डरते हैं ... क्यों और किससे?" उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर चर्चा करने की जरूरत है.

 

आरएसएस नेता ने यह भी कहा कि यह धारणा मुगल बादशाह औरंगजेब द्वारा बनाई गई विभाजनकारी मानसिकता के कारण बनाई जा सकती थी. गोपाल ने कहा कि भारत ने कभी भी वसुधैव कुटुम्बकम और सर्वे भवन्तु सुखिनः के अपने सिद्धांतों पर कोई समझौता नहीं किया है. उन्होंने कहा कि भारतीय चाहते हैं कि पाकिस्तान भी समृद्ध हो.

गोपाल ने मुग़ल बादशाह शाहजहां के पुत्र दारा शिकोह को समावेशीता का चेहरा बताया. उन्होंने यह भी दावा किया कि दाराशिकोह एक सच्चे मुसलमान थे, जिन्होंने उपनिषदों का फारसी भाषा में अनुवाद किया था. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी भी सम्मेलन में शामिल हुए. उन्होंने औरंगजेब को आतंकवाद का प्रतीक और दारा शिकोह को राष्ट्रवाद की पहचान बताया.

RSS प्रमुख मोहन भागवत के काफिले से 6 साल के बच्चे की मौत, एक व्यक्ति घायल

First published: 12 September 2019, 11:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी