Home » राजनीति » Shankaracharya swaroopanand saraswati says BJP wants to win lok sabha election 2019 in the name of Ram temple
 

भाजपा राम मंदिर के नाम पर सत्ता हासिल करना चाहती है- शंकराचार्य स्वरूपानंद

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 July 2018, 17:37 IST
(File photo)

केंद्र में जब से मोदी सरकार आई है तभी से वह विपक्षी पार्टियों के निशाने पर रहती है और आए दिन कोई न कोई टिप्पणी सुनने को मिलती है. इसके बाद अब जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद ने भी बीजेपी की सरकार के उपर एक बड़ा बयान दिया है. मोदी सरकार ने चुनाव के समय देश के लोगों से वादा किया था कि राम मंदिर बनेगा और विदेशों से काला-धन वापिस लाएगी. इसके बाद भी सरकार का अभी तक कोई वादा पूरा नहीं हुआ है.

इस संबंध में जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद ने भी बीजेपी की आलोचना की है. चातुर्मास प्रवास के लिए वृंदावन आए शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने मीडिया से हुए रूबरू होते हुए मोदी सरकार पर निशाना साधा है. शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद ने मीडिया से कहा कि बीजेपी का उद्देश्य राममंदिर निर्माण नहीं बल्कि मंदिर के नाम पर सत्ता हासिल करना है.

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि योगी सरकार व मोदी सरकार ने गो हत्या रोकने पर अभी तक कोई कदम नहीं उठाया है. स्वरूपानंद सरस्वती ने संसद में दिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के भाषण की भी सराहना करते हुए कहा कि लोकसभा में राहुल गांधी ने पप्पू कहने का विरोध नहीं बल्कि भाजपा की नीतियों का विरोध किया है. बीजेपी तो 2019 लोकसभा चुनाव में राम मंदिर के नाम पर सत्ता पाना चाहती है.

ये भी पढे़ं: नोेएडा के बाद गाजियाबाद में गिरी पांच मंजिला बिल्डिंग, कई लोगों के मलबे में दबे होने की खबर

First published: 22 July 2018, 17:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी